हमें जल्द से जल्द गांव भेज दो नहीं तो हम भूखे मर जाएंगे

Karoli News - खरड़ के दशमेश नगर में किराए पर रहने वाले करीब 250 प्रवासी लोग बिना किसी सुविधा के पंजाब में लगे कर्फ्यू के कारण अपने...

Mar 27, 2020, 08:21 AM IST
Kariri News - rajasthan news send us to the village as soon as possible or we will die of hunger

खरड़ के दशमेश नगर में किराए पर रहने वाले करीब 250 प्रवासी लोग बिना किसी सुविधा के पंजाब में लगे कर्फ्यू के कारण अपने घरों में कैद हो कर रह गए हैं, जिनके पास खाने के लिए एक वक्त का खाना भी नहीं है। एक कमरे में 10 से ज्यादा लोग रह रहे है जिन्हें कोरोना से ज्यादा भूख सताने लगी है।

सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा घर घर खाना पहुंचाए जाने के किए जा रहे सभी दावे मात्र कागजों तक ही सीमित रह गए है। इन जरूरतमंद लोगों के बारे में प्रशासन पूरी तरह से बेखबर है। हालांकि देर रात करीब 11 बजे प्रशासनिक अधिकारियों डीसी, एसडीएम व अन्य पुलिस अधिकारियों को इस संबंध में सूचित किया गया लेकिन सब बेअसर। रात को मात्र एक पुलिस कॉल इन लोगों के पास आई कि सुबह टीम यहां पहुंचेगी लेकिन वीरवार सुबह 12 बजे तक इन लोगों की खबर लेने के लिए कोई भी नही पहुंचा था। बिहार के पश्चिम चंपारण, जिला बेतिया व साथ लगते कई क्षेत्रों से संबधित करीब ढ़ाई सौ मजदूर खरड़ की दशमेश नगर काॅलोनी में किराए के कमरे लेकर रह रहा है। जिनमें से कुछ लोग तो अपने परिवारों के साथ रह रहे है। यह वो मजदूर है जो रोजाना लेबर चौंक पर जाकर काम ढूंढ़ कर रोजगार कमाते है। जिस दिन काम ना मिले तो इनके घरों में चूल्हा भी नहीं जलता। इन मजदूरों ने बताया कि मार्च महीने में कभी बरसात तो कभी होली तो कभी कर्फ्यू होने के कारण वह लोग बिल्कुल भी काम नहीं कर पाए। इन लोगों के पास 10 रुपये भी खर्च करने को नहीं है। अब अचानक तीन सप्ताह का लॉक डाउन होने के कारण वह लोग बिना किसी व्यवस्था के ही अपने कमरों में कैद हो कर रह गए है। इन्होंने बताया कि तीन दिन बाद गत रात किसी की मदद से इन लोगों ने खाना खाया। इन लोगों का कहना है कि कोरोना वायरस क्या है वह नहीं जानते मगर अब वह यह जान रहे है कि भूख से वह लोग जरूर मर जाएंगे उन्हें अपने परिवार की चिंता सताने लगी है। जिसके चलते इन लोगों ने संयुक्त रूप से एक वीडियो बिहार के एक एमएलए दलीप वर्मा को सेंड कर नीतिश सरकार से मदद की गुहार लगाई है। जिस संबंध में इन्होंने पंजाब सरकार की व्यवस्था का हवाला देते हुए कहा कि उन्हें बिहार ले जाने की व्यवस्था की जाए ताकि वह लोग अपने गांव पहुंच कर सुरक्षित जीवन व्यतीत कर सके।


हिमांशु जैन, एसडीएम खरड़

X
Kariri News - rajasthan news send us to the village as soon as possible or we will die of hunger

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना