15 गैर-मुस्लिम छात्राें काे फेल करने का ट्वीट करने वाले प्रोफेसर को सस्पेंड किया

Shriganganagar News - ट्वीट करने वाले असिस्टेंट प्रोफेसर को किया निलंबित दिल्ली की जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी ने एक परीक्षा में 15...

Mar 27, 2020, 08:26 AM IST
ट्वीट करने वाले असिस्टेंट प्रोफेसर को किया निलंबित

दिल्ली की जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी ने एक परीक्षा में 15 गैर-मुस्लिमाें काे फेल करने का ट्वीट करने वाले असिस्टेंट प्राेफेसर डाॅ अहमद अबरार काे निलंबित कर दिया है। यूनिवर्सिटी ने डॉक्टर अबरार के खिलाफ जांच के अादेश दिए हैं। हालांकि, प्राेफेसर ने कहा है कि उन्हाेंने कटाक्ष में यह बात कही थी, जिसे गलत समझा गया है। रिपोर्ट के अनुसार डाॅ अहमद अबरार ने बुधवार काे अपने ट्वीट में लिखा था, ‘15 गैर-मुस्लिमाें को छोड़कर मेरे सभी छात्र पास हो गए हैं। अगर आप सीएए के खिलाफ आंदोलन करते हैं तो मेरे पास सीएए के पक्ष में 55 छात्र हैं। अगर आंदोलन खत्म नहीं हुआ तो बहुमत आपको सबक सिखाएगा। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते आपके आंदोलन के चिह्न मिट गए हैं। मैं हैरान हूं कि आपको मुझसे नफरत क्यों है?’ इसी पर दिल्ली की जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी प्रशासन ने गुरुवार काे अपने ट्वीट में कहा कि यह साम्प्रदायिक भाईचारे के खिलाफ गंभीर मामला है।

वहीं, प्राेफेसर अबरार ने अपना विवादित ट्वीट हटा दिया है अाैर कहा, ‘मैंने सटायर (तंज), पैराेडी के रूप में यह ट्वीट किया था कि सीएए के जरिए कैसे अल्पसंख्यकाें काे निशाना बनाया जा रहा है।’ उन्हाेंने कहा कि माैजूदा सेशन में अभी एेसी काेई परीक्षा हुई ही नहीं है अाैर इससे पहले के सेमेस्टर में सभी छात्र पास हुए हैं। डाॅ अबरार ने कहा, मुझसे गलती यह हाे गई कि इतने कम शब्दाें में कई सारे अर्थ समेटने की काेशिश की अाैर इस कटाक्ष काे गलत अर्थ में लिया गया। मेरा एेसा काेई इरादा नहीं था। वहीं, यूनिवर्सिटी के एक अधिकारी ने कहा, ‘चाहे परीक्षा हुई हो या नहीं, चाहे नतीजा आया हो या नहीं, वो ऐसी कोई बात कैसे लिख सकते हैं।’ अधिकारी ने कहा कि जामिया को बदनाम करने वाले अबरार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना