किसानाें की बची उम्मीदों पर भी बारिश की मार, फसलें चाैपट

Balotra News - कोरोना के कहर के चलते जहां आमजन सकते में है, वहीं बेमौसम बरसात जले पर नमक छिड़कने का काम कर रही है। बेमौसम बरसात...

Mar 27, 2020, 06:26 AM IST
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy

कोरोना के कहर के चलते जहां आमजन सकते में है, वहीं बेमौसम बरसात जले पर नमक छिड़कने का काम कर रही है। बेमौसम बरसात होने से लोगों में मौसमी बीमारियों के बढ़ने का डर सता रहा है। तीन पहले हुई रिमझिम बरसात से अभी लोगों ने राहत की सांस भी नहीं ली कि गुरुवार सुबह 7 बजे शुरु हुई रिमझिम बारिश का दौर देर शाम तक जारी रहा। आसमान में घनघोर घटाएं छाने के साथ दिन भर हल्की तो तेज बरसात का क्रम जारी रहा, ऐसा लग रहा था मानो श्रावण-भादो मास की बरसात हो रही है। कोरोना महामारी और उपर से बरसात होने से लोगों को अब अधिक सचेत रहने की जरूरत है। इसके साथ ही किसानों के सामने फसल खराबे की चिंता अधिक बढ़ गई है। गत तीन पहले हल्की रिमझिम बरसात होने से किसानों को अधिक नुकसान नहीं हुआ, लेकिन गुरुवार को दिन भर चली बरसात से खेतों में पानी का भराव हो गया। इसके चलते गेहूं, इसबगोल, सरसों व जीरे की फसल में नुकसान होने से किसान परेशान नजर आ रहे है।

शहर सहित क्षेत्र में गुरुवार सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहे। सुबह 7 बजे हल्की बूंदाबांदी का दौर शुरु हुआ, इसके बाद कभी हल्की तो तेज बरसात का क्रम जारी रहा। देर शाम तक बरसात का दौर चलता रहा। इससे घरों से परनाले बहने लगे। वहीं सड़कों पर पानी का भराव हो गया। लगातार बरसात का क्रम जारी रहने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई, वहीं मौसम में ठंडक घुली रही। बेमौसम बरसात होने से जहां किसानों को नुकसान झेलना पड़ेगा। वहीं मौसमी बीमारियों के बढ़ने की आशंका बढ़ गई है। शहर में ओवरब्रिज निर्माण का कार्य चल रहा है, इसके चलते प्रथम रेलवे फाटक, पुराना बस स्टैंड मार्ग, कचहरी रोड़ पर सड़कें पूरी तरह से क्षतिग्रस्त है। बरसात के बाद पानी का भराव व कीचड़ फैलने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि लॉकडाऊन के चलते दोपहर बाद लोगों की आवाजाही बिल्कुल बंद रही, लेकिन सुबह के समय जरूरत की सामग्री खरीदने के लिए सब्जी मंडी, किराणा की दुकान व मेडिकल स्टोर पर पहुंचने वाले राहगीरों व वाहन चालकाें को परेशानी का सामना करना पड़ा।

सिवाना | कस्बे में मौसम के अचानक बदले मिजाज ने एक बार फिर लोगों को हल्की ठंड का एहसास करा दिया। सुबह में दिन भर व तेज व हल्की फुहार ने भी लोगों को भिगोया। इससे किसान भी खेतों में खड़ी फसलों को लेकर काफी चिंतित हो गए। गुरुवार को सुबह अचानक हल्की बारिश हो जाने से किसानों के चेहरों पर मायूसी छा गयी। सुबह लगभग 8बजे के आसपास से हल्की फुल्की बारिश दिन भर बारिश दौर जारी रहने से हो जाने से किसानों के चेहरों पर मायूसी देखने को मिली।

मायलावास | कस्बे में बेमौसम बुधवार की देर सायं शुरू हुई बारिश रात में भी रूक-रुककर बूंदाबांदी होती रही। कभी तेज बारिश तो कभी बूंदाबांदी के साथ चली तेज हवाएं फसल की दुश्मन साबित हुई। गुरुवार को सुबह भी काले बादलों की कड़कड़ाती तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हुई जो पूरे दिन बारी-बारी होती रही। तेज हवा से किसानों के खेतों में खड़ी गेहूं की फसल गिर गई। जिससे किसान मायूस नजर आए। किसान अशोक गोदारा फूलण, जवाराराम माली मायलावास ने कहा कि बार बार हो रही बारिश से फसल की कटाई का भी समय नहीं मिल रहा है। जिससे फसल दिन प्रतिदिन बारिश से खराब हो रही है। बारिश से ईसबगोल ओर गेहूं की फसल सबसे ज्यादा खराब हुई है। मेहनत पर पानी फिर गया।

मोकलसर स्टेशन | क्षेत्र मे गुरुवार सुबह 9 बजे के करीब कई गांवो मे तेज गर्जना के साथ बारिश हुई। बारिश व तेज हवा से खेतोंं मे खड़ी फसलें तबाह हो गई है। बेमौसम बारिश ने अच्छी फसल की आस लगाए किसानों के अरमानों पर पूरी तरह पानी फेर दिया है। सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक लगातार बारिश से खेतों में खड़ी फसलें खराब हो चुकी है। मोकलसर, मायलावास, लूदराडा, भागवा, रमणिया, मवड़ी सहित कई गांवों में जीरा की फसल कटाई हो रही है इस दरम्यान बारिश होने के कारण किसानों की फसलें खराब हो गई है।

पादरू | कस्बे में सुबह से शाम तक बूंदाबांदी व बारिश का दौर होने से किसान चिंतित हो गए। बारिश होने से मौसम में ठंडक गुल गई लेकिन बारिश ने किसानों की फसलों को चौपट कर दिया।

मोकलसर | कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में बेमौसम बारिश से किसानों की चिंता को बढ़ा दिया है। मोकलसर कस्बे में सुबह दस बजे आसमान में बादलों की घटाटोप छा गई और तेज हवाएं चलनी लगी जो पांच बजे तक रुक रुक हुई बरसात से गली मोहल्लों में पानी भर गया। बारिश के आने पर किसानों के मेहनत पानी मे बहती नजर आई।

रमणिया | कस्बे सहित काठाडी, भागवा व ग्रामीण क्षेत्र में तेज हवाओं के साथ मुसलाधार बारिश हुई। इससे खेतों में खड़ी इसबगोल एवं जीरे की फसल को भारी नुकसान उठाना पड़ा।

बालोतरा . दिनभर बरसात के कारण सड़कों पर जमा कीचड़ से गुजरते हुए राहगीर।

मोकलसर स्टेशन. बारिश से बचाव के लिए फसलों को तिरपाल से ढका।

मायलावास. कटाई की हुई फसल पर हुई बारिश से खराब हुई फसल।

सिवाना. उपखंड मुख्यालय पर सूनी पड़ी सड़कों पर बरसता पानी।

Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy
X
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy
Balotra News - rajasthan news the rains hit the remaining hopes of the farmers crops are choppy

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना