गेहूं की फसल पककर तैयार, कटाई के लिए न मजदूर मिल रहे और न हार्वेस्टर

Banswara News - रबी की सीजन में गेहूं की फसल पककर तैयार है। लेकिन लॉकडाउन के कारण इस फसल को काटने के लिए न तो मजदूर मिल रहे है और ना...

Mar 27, 2020, 06:26 AM IST
Banswara News - rajasthan news wheat crop ripened neither laborers nor harvesters are available for harvesting

रबी की सीजन में गेहूं की फसल पककर तैयार है। लेकिन लॉकडाउन के कारण इस फसल को काटने के लिए न तो मजदूर मिल रहे है और ना ही खड़ी फसल को निकालने के लिए हार्वेस्टर और थ्रेशर। ऐसे में चार माह की मेहनत से तैयार की गई गेहूं की फसल खेतों में ही खराब होने की अाशंका में किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें नजर आ रही है। किसानों ने बताया कि गेहूं की फसल पक गई है, लेकिन कोराना वायरस के कारण लगाए गए लॉकडाउन में मजदूर नहीं आ रहे हैं। ऐसे में गेहूं की फसल खेतों मंे ही सूखती जा रही है। वहीं दूसरी ओर खड़ी फसल को निकालने के लिए जयपुर, पाली, जोधपुर, पंजाब और हरियाणा से हर साल आने वाले हार्वेस्टर और थ्रेशर इस साल लॉकडाउन के कारण अब तक नहीं आए। जिले के कमांड क्षेत्र में एक लाख से अधिक हैक्टेयर में गेहूं की फसल पक गई है। किसानों को इस बात की भी चिंता सता रही है कि मौसम में बदलाव के कारण कहीं बारिश हो गई तो पूरी मेहनत पर पानी फिर जाएगा। समय पर ये हार्वेेस्टर आ गए तो गेहूं घरों मंे आ जाएंगे।

जिले के लिए 15 हार्वेस्टर की डिमांड

भारतीय किसान संघ के संभागीय अध्यक्ष रणछोड़ पाटीदार ने बताया कि जिले के कमांड एरिया में गेहूं की फसल काटने के लिए हमने जिला प्रशासन और कृषि विभाग से 15 हावेस्टर की डिमांड की है। अगर ये आ जाते हैं तो 4 बागीदौरा, 3 बांसवाड़ा, 2 घाटोल, 2 गनोड़ा, 2 गढ़ी और 1 तलवाड़ा क्षेत्र में भेज देंगे, ताकि वहां गेहूं की कटाई की जा सके। साथ ही इन हार्वेस्टर, थ्रेशर और मक्का कुट्‌टी मशीन के खराब होने की स्थिति में पार्ट्स की दुकानें भी दिन में 1 घंटे तक खोलने का आग्रह किया है ताकि मशीन संचालक पार्ट्स खरीद सके।

किसान और मजदूरों को खेतों में काम करते वक्त सावधानी बरतने की हिदायत


इधर, कोराना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए प्रशासन और कृषि विभाग ने निर्देश जारी कर किसानों और मजदूरों को हिदायत दी है कि फसल की कटाई मशीनों से ही कराई जाएं। वहीं हाथ से कटाई के उपकरण काम में लेने पर उपकरणों को दिन मंे कम से कम 3 तीन बार साबुन के पानी से धोए। विभाग ने किसानों व मजदूरों को भी फसल कटाई के दौरान एक दूसरे से 5 मीटर की दूरी बनाए रखने, सभी व्यक्तियों के खाने के बर्तन अलग-अलग रखने, बर्तनों को साबुन के पानी से अच्छी तरह से साफ करने, फसल कटाई करने वालों को मास्क का उपयोग करने, थ्रेसर से अनाज या धान निकालते वक्त एक दूसरे से दूरी रखने, मास्क पहनने को कहा है।



नवागांव. हार्वेस्टर नहीं मिलने के कारण खेत में खड़ी गेहूं की सूखी फसल।

X
Banswara News - rajasthan news wheat crop ripened neither laborers nor harvesters are available for harvesting

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना