पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नए टैक्सपेयर जोड़ने के मामले में राजस्थान देश में अव्वल

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जोधपुर. नोटबंदी और जीएसटी के बाद नए टैक्सपेयर जोड़ने में राजस्थान देशभर में अव्वल रहा है। राजस्थान ने लक्ष्य से अधिक टैक्सपेयर्स जोड़े। इसमें जोधपुर सर्किल भी पीछे नहीं रहा। है। जोधपुर सर्किल में भी लक्ष्य से अधिक दो लाख दस हजार नए टैक्सपेयर्स ने आयकर रिटर्न भरे हैं। पूरे देश में नए टैक्सपेयर जोड़ने के लिए जागरूकता अभियान चलाए गए थे। इसमें राजस्थान ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए पूरे देश में सबसे अधिक 6 लाख 75 हजार नए टैक्सपेयर्स जोड़े हैं, जो लक्ष्य 100 प्रतिशत से अधिक 115 प्रतिशत है। पहले जो रिटर्न फाइल नहीं करते थे, वे इस बार स्वतः ही जागरूकता के चलते आगे आए हैं और रिटर्न फाइल किए हैं।

 

जोधपुर सर्किल देश में सबसे बड़े सर्किल में से एक है। जोधपुर सर्किल का क्षेत्राधिकार 800 किलोमीटर यानी माउंट आबू से गंगानगर के ऊपर अबोहर तक है। जोधपुर में बीकानेर भी शामिल है। जोधपुर सर्किल ने भी अपने लक्ष्य से अधिक हासिल किया है। जोधपुर ने करीब 120 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया है। जोधपुर सर्किल ने लक्ष्य 1 लाख 76 हजार से अधिक 2 लाख 10 लाख नए टैक्सपेयर जोड़े हैं। 

तीनों जाेन में जोधपुर ने हासिल किए सर्वाधिक लक्ष्य  
जाेधपुर के मुख्य आयकर आयुक्त के अंतर्गत तीन प्रधान आयकर आयुक्त व उनके जोन हैं। आयकर आयुक्त प्रथम के तहत जोधपुर, द्वितीय में जोधपुर के कुछ एरिया नागौर व बालोतरा के एरिया में शामिल हैं। प्रधान आयकर आयुक्त  तृतीय बीकानेर है। नए टैक्सपेयर जोड़ने के मामले में तीनों जोन में सर्वाधिक ग्रोथ जोधपुर में है, जो 123 प्रतिशत है। प्रधान आयकर आयुक्त के क्षेत्र में भी समान 123 और बीकानेर में 112 प्रतिशत लक्ष्य से अधिक हासिल किया है।    


 इस बार स्वैच्छिक रूप से नए टैक्सपेयर जुड़े हैं। इनकी संख्या इतनी बड़ी है कि राजस्थान ने देश में पहला स्थान हासिल किया है। जोधपुर ने भी लक्ष्य से बढ़कर हासिल किया है।  
पीके अंबष्ठ, मुख्य आयकर आयुक्त, जोधपुर सर्किल

 

खबरें और भी हैं...