राजकुमार ने गर्लफ्रैंड पत्रलेखा को लिखा ओपन लव लैटर

Mohali Bhaskar News - वैलेंटाइन वीक में राजकुमार राव ने अपनी गर्लफ्रेंड पत्रलेखा के लिए ओपन लेटर लिखा। पढ़िए उसके कुछ मुख्य अंश...।...

Feb 15, 2020, 07:31 AM IST
Kurali News - rajkumar wrote an open love letter to his girlfriend patralekha

वैलेंटाइन वीक में राजकुमार राव ने अपनी गर्लफ्रेंड पत्रलेखा के लिए ओपन लेटर लिखा। पढ़िए उसके कुछ मुख्य अंश...। हैलो प्रिय पत्रलेखा, ये प्यार का महीना है और मैं उन शब्दों और हाव-भावों के बारे में सोच रहा था, जिनसे हम अपना प्यार जताते हैं। मैंने बहुत सारे रोमांटिक रोल किए हैं। बावजूद इसके आज मैं प्यार जताने के स्वीकार तरीकों, हावभावों को लेकर खुद से सवाल कर रहा हूं। क्या ये तुम्हें वैसा ही महसूस करवाते हैं, जैसा इनका मतलब होता है। अब तुम कहोगी, सच में, लेकिन प्यार दुनिया बदल देता है। हां, ऐसा होता है। लेकिन कई बार इसका गलत मतलब भी निकाला जाता है। और यही मेरे लिए चिंता की बात है। रुको, मैं समझाता हूं।

हम कितनी आसानी से प्यार जताने के लिए प्यार में पागल हूं और प्यार में अंधा जैसी बातें कह देते हैं। लेकिन कभी सोचा है कि इनका क्या मतलब निकलता है? क्या प्यार लॉजिक से परे चला जाता है, क्या ये आपको कमजोर बना देता है? ये सच नहीं है न। हम रिलेशनशिप में इसलिए आए हैं न कि हम साथ मिलकर कुछ बड़ा कर सकें। क्योंकि तुमसे मिले प्यार ने मुझे बेहतर बनाया है और यह यकीन दिलाया है कि हम साथ में कितने मजबूत हैं। तो फिर उसे ऐसी भाषा से क्यों जोड़ा जाए जो इंडीविजुएलिटी को नकारती है और उस क्षमता को कम आंकती है कि कैसे दो लोग साथ आकर कुछ बेहतर और बड़ा करने पर कैसा महसूस करते हैं। इसका एक और उदाहरण है बैटर हाफ का विचार। इसका क्या मतलब होता है? प्यार बराबर की पार्टनरशिप नहीं होनी चाहिए? कोई एक बैटर कैसे हो सकता है और यहा तुलना कैसे की जा सकती है? क्या प्यार में एक-दूसरे पर हावी होने की बजाय एक-दूसरे की महात्वाकांक्षाएं, सपने और जुनून को बढ़ावा नहीं देना चाहिए? सैटल होना या प्यार ही सबकुछ है जैसे एक्सप्रेशन पूरी तरह गलत हैं क्योंकि यह आपको समझौता करने और सैटल होने के लिए मजबूर करते हैं। लेकिन मैं जानता हूं कि हम सैटल नहीं हुए हैं। बल्कि हम ऊपर उठे हैं और वह सब हासिल किया है, जिसके बारे में हमें अकेले सोच भी नहीं सकते थे। मैं जानता हूं कि हमने मिलकर खुद को अच्छा बनाया है और मतभेदों को बाधा नहीं बनने दिया है। लेकिन जब बात प्यार जताने की आती है तो सारा ध्यान दिखावटीपन पर क्यों रहता है? हम देखते हैं कि लोग इस धारणा के दबाव में क्यों रहते हैं कि प्यार जताने के तरीके लाउड होने जरूरी हैं, वे ऐसे होने चाहिए कि उसके पैरों तले से जमीन खिसक जाए? आखिर में मैं यही कहूंगा कि हम नौ साल से साथ हैं और बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं। लेकिन एक चीज हमारे बीच हमेशा बनी रही, वह भी किसी जरूरी शानदार डिनर डेट, चॉकलेट या प्यार जताने के किसी भारी-भरकम तरीके के बिना। मैं इसी रास्ते पर चलकर, हमेशा साथ में रहना चाहता हूं।

हैप्पी वैलेंटाइन्स डे

लव,

राज

X
Kurali News - rajkumar wrote an open love letter to his girlfriend patralekha

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना