रांची , रविवार, 10 नवंबर, 2019

News - रांची , रविवार, 10 नवंबर, 2019 19 फूलहिं फरहिं सदा तरु कानन। रहहिं एक संग गज पंचानन॥ खग मृग सहज बयरु बिसराई। सबन्हि...

Nov 10, 2019, 07:51 AM IST
रांची , रविवार, 10 नवंबर, 2019

19

फूलहिं फरहिं सदा तरु कानन। रहहिं एक संग गज पंचानन॥

खग मृग सहज बयरु बिसराई। सबन्हि परस्पर प्रीति बढ़ाई॥

अर्थात: वनों में वृक्ष सदा फूलते और फलते हैं। हाथी और सिंह (दुश्मनी भूलकर) एक साथ रहते हैं। पक्षी और पशु सभी ने स्वाभाविक बैर भुलाकर आपस में प्रेम बढ़ा लिया है।

- श्री रामचरितमानस, उत्तर कांड

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना