--Advertisement--

5 साल तक दुनिया से दूर अकेली भटक रही थी ये भेड़, वापस लौटी तो उसका साइज देखकर हैरान थी रेस्क्यू टीम

जान बचाने के लिए शरीर से हटाया वजन, लेकिन कहानी अभी बाकी थी

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 06:53 PM IST

(ये कहानी 'सोशल वायरल सीरीज' के तहत है। दुनियाभर में सोशल मीडिया पर ऐसी स्टोरीज वायरल हुईं हैं, जिसे आपको जानना चाहिए।)

कैनबरा. ऑस्ट्रेलिया में कुछ वक्त पहले जानवरों के लिए काम करने वाली एक संस्था ने रेस्क्यू करते हुए एक भेड़ की जान बचाई। वो भेड़ अपने बढ़े हुए वजन के कारण ठीक से चल फिर नहीं पा रही थी। साथ ही उसकी बॉडी पर इतना ज्यादा ऊन हो गया था कि उसकी जान भी खतरे में पड़ गई थी। हालांकि जब ऊन को उसके शरीर से हटाया गया तो इसी ने उसे दुनियाभर में फेमस बना दिया। उसकी बॉडी से 40 किलो से ज्यादा ऊन निकला, जो कि एक रिकॉर्ड है।

खतरे में थी जान

- ऑस्ट्रेलिया में पशुओं के लिए काम करने वाली एक संस्था ने सितंबर 2015 में रेस्क्यू करते हुए एक भेड़ को बचाया था और उसका नाम क्रिस रखा था। उस वक्त उसकी हालत काफी गंभीर थी।
- क्रिस को बचाने वाली RSPCA संस्था का कहना था कि उसे देखकर ऐसा लग रहा था कि उसके शरीर से पिछले करीब 5 सालों से ऊन नहीं निकाला गया था। विशेषज्ञों के मुताबिक अगर भेड़ के शरीर से रेग्युलरली ऊन नहीं निकाला जाए तो उनकी जिंदगी खतरे में पड़ जाती है। ऐसे में वो भी खतरे में थी। साथ ही बढ़े वजन की वजह से उसे चलने में भी दिक्कत हो रही थी।
- क्रिस के बारे में बता चलने के बाद कैनबरा की इस पशु संस्था ने भेड़ से ऊन निकालने वाले एक्सपर्ट इयान एल्किंस को बुलाया। इयान ने जब क्रिस के शरीर से ऊन को हटाया तो एक नया रिकॉर्ड बन गया।
- इयान ने क्रिस के शरीर से 40.45 किलो वजन का ऊन निकाला। इसके साथ ही एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गया था। क्योंकि पिछला रिकॉर्ड न्यूजीलैंड की एक भेड़ श्रेक के नाम था, जिसकी बॉडी से करीब 27 किलोग्राम ऊन निकाला गया था।

खतरे में पड़ गई थी जान

- भेड़ के शरीर से ऊन निकाले जाने से पहले डॉक्टर्स ने उसकी जान को खतरा बताया था। उन्हें डर था कि इस प्रोसेस के दौरान लगने वाले झटकों से क्रिस की मौत भी हो सकती है।
- इयान ने चार हेल्पर्स की मदद लेते हुए क्रिस के शरीर से ऊन निकाला। इस प्रोसेस में करीब 42 मिनट का वक्त लगा। आमतौर पर किसी भेड़ के शरीर से 12 महीने में ऊन निकाला जाता है, इस दौरान करीब 5 किलो तक ऊन निकलता है।
- ऊन निकालने को लेकर इयान ने कहा कि ये काफी मुश्किल काम था। लेकिन भेड़ शांत थी इसलिए ये थोड़ा आसान हो गया। हालांकि ऊन निकालने से पहले डॉक्टर्स ने उसे हल्की सी बेहोशी की दवा भी दे दी थी।
- क्रिस को ज्यादा तकलीफ ना हो इसलिए हमने ऊन निकालने की प्रोसेस उसके पेट से शुरू की थी। इसके लिए हमें उसे उल्टा करना पड़ा था। इयान के मुताबिक उसके शरीर से जो ऊन निकला था उसकी लंबाई 42 सेंटीमीटर थी। इस वजह से उसकी कमर्शियल वेल्यू ज्यादा नहीं थी।

Record Fleece shorn off overgrown Sheep in Canberra
Record Fleece shorn off overgrown Sheep in Canberra
X
Record Fleece shorn off overgrown Sheep in Canberra
Record Fleece shorn off overgrown Sheep in Canberra
Bhaskar Whatsapp

Recommended