ज्ञान

  • Dharm
  • Gyan
  • religious rule for temple what to do or dont
--Advertisement--

कई लोग मंदिर में करते हैं कुछ गलतियां, जिनकी वजह से पड़ जाते हैं मुश्किल में

मंदिर में दर्शन करते वक्त बहुत से लोग कुछ छोटी-छोटी गलतियां कर देते हैं। जिनसे दोष लगता है और पुण्य कम हो जाते हैं।

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2018, 03:15 PM IST
religious rule for temple what to do or dont

मंदिर में दर्शन करते वक्त बहुत से लोग कुछ छोटी-छोटी गलतियां कर देते हैं। जिनसे दोष लगता है और पुण्य कम हो जाते हैं। इन गलतियों के बारे में कई लोगों को नहीं पता है। जिस तरह भगवान की पूजा करते समय हमें कई नियमों को ध्यान में रखना होता है उसी तरह मंदिर जाने और वहां दर्शन करने के कुछ नियम आपस्तंब धर्म सूत्र और शुल्ब सूत्रों में बताए गए हैं। ये नियम इस प्रकार हैं...

जानिए कौन-सी हैं वो गलतियां -

बेल्ट पहनकर जाना - मंदिर में कभी बेल्ट पहनकर या चमड़े से बनी चीजें नहीं ले जाना चाहिए। चमड़े को अशुद्ध माना गया है। ऐसा करने पर दोष लगता है। जिसकी वजह से पुण्य खत्म होते हैं।

मूर्ति के सामने खड़ा होना - कई लोग मंदिर में जाते ही देवी-देवता की मूर्ति के सामने ही खड़े हो जाते हैं। ये ठीक नहीं है। ऐसा करने से आपकी सेहत खराब हो सकती है। दरअसल भगवान की मूर्ति से निकलने वाली भारी तेज ऊर्जा मानव शरीर सहन नहीं कर पता। इसका असर धीरे-धीरे सेहत पर पड़ने लगता है।

हंसना - मंदिर में हंसना, जोर से बोलना (फालतू बातें), किसी भी तरह का मनोरंजन करना ठीक नहीं है। धर्म सूत्रों के अनुसार ऐसा करने से दोष लगता है। इससे घर में क्लेश और अशांति होती है।

कोई दर्शन करे तो उसके आगे से निकलना या खड़ा होना - मंदिर में जब कोई भक्त भगवान के दर्शन करते वक्त बैठकर या लेटकर (षाष्टांग) प्रणाम कर रहा हो तो उसके आगे से नहीं निकलना चाहिए और न ही खड़ा होना चाहिए। ऐसा करने से पाप के भागी बनते हैं।

उल्टी परिक्रमा करना - कुछ लोग अज्ञानता के कारण या जल्दबाजी में उलटी परिक्रमा कर लेते हैं। हमेशा परिक्रमा उलटे हाथ की तरफ से शुरू कर के सीधे हाथ की ओर खत्म करनी चाहिए। इसके अलावा शिवलिंग की अाधी परिक्रमा करनी चाहिए। जलाधारी को लांघना नहीं चाहिए।

X
religious rule for temple what to do or dont

Related Stories

Click to listen..