विज्ञापन

गुरु ग्रह होता है भाग्य का कारक, कुंडली में ये अशुभ हो तो कड़ी मेहनत के बाद भी नहीं मिलता है धन लाभ

Dainikbhaskar.com

Jul 19, 2018, 11:39 AM IST

गुरुवार को कर सकते हैं 7 में से कोई 1 उपाय, दूर हो सकता है दुर्भाग्य

remedies for guru grah bless and solve the problem of money
  • comment

रिलिजन डेस्क. अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में गुरु ग्रह से संबंधित कोई दोष होता है तो हमें भाग्य का साथ नहीं मिल पाता है। इससे धन लाभ में भी परेशानियां आतीं हैं। बृहस्पति भाग्य का कारक ग्रह है। गुरु ग्रह से शुभ फल पाने के लिए हर गुरुवार विशेष उपाय किए जा सकते हैं। उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसार गुरुवार के उपायों से भाग्य की बाधाएं दूर हो सकती हैं और कुंडली के अन्य दोष भी दूर हो सकते हैं। यहां जानिए गुरुवार को कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं...
- गुरुवार को तांबे के लोटे में पानी लें और केसर मिलाएं। इसके बाद ये जल शिवलिंग पर चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करते रहना चाहिए। इस उपाय से भाग्य से जुड़ी परेशानियां खत्म हो सकती हैं।
- धन संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए घर के मुख्य द्वार पर श्रीयंत्र रखकर उसकी पूजा करें।
- हिन्दी पंचांग के अनुसार शुक्ल पक्ष में आने वाले गुरुवार को अपनी पत्नी, बहन, बेटी या माता से घर के मुख्य द्वार पर गंगाजल का छिड़काव करवाएं। इस उपाय से घर की नकारात्मकता दूर हो सकती है।
- गुरुवार को गंगाजल छिड़कने के बाद द्वार पर स्वस्तिक बनाएं। स्वस्तिक श्री गणेश का प्रतीक होता है। इसकी पूजा करें और परेशानियों को दूर करने की प्रार्थना करें।
- सुबह जल्दी उठें। स्नान आदि कर्मों के बाद किसी मंदिर जाएं और छोटे बच्चों को केले वितरित करें।
- घर से दरिद्रता को दूर करने के लिए मुख्य द्वार पर सुबह रंगोली बनाएं। ये एक प्राचीन परंपरा है। रंगोली से देवी लक्ष्मी और अन्य सभी देवी-देवता हमारे घर की ओर आकर्षित होते हैं। इसके शुभ असर से घर के वास्तु दोष भी दूर होते हैं।
- मुख्य द्वार पर किसी भी गुरुवार को अपने इष्टदेव का प्रतीक चिह्न जैसे स्वस्तिक, ऊँ, त्रिशूल आदि बनाएं। इसके बाद रोज सुबह इस चिह्न की पूजा करें। ऐसा करने से घर में बरकत बनी रहती है।

X
remedies for guru grah bless and solve the problem of money
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन