--Advertisement--

चाहते हैं संतान सुख तो चतुर्थी तिथि पर करें श्रीगणेश के बाल रूप की पूजा

चतुर्थी तिथि पर ये उपाय करने से आपकी संतान सुख की इच्छा पूरी हो सकती है।

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 05:00 PM IST

रिलिजन डेस्क। 3 मई, गुरुवार को ज्येष्ठ मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि है। इस दिन भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए गणेश चतुर्थी का व्रत किया जाता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, इस दिन कुछ खास उपाय करने से श्रीगणेश भक्तों की हर मनोकामना पूरी कर सकते हैं। ये उपाय इस प्रकार हैं-

संतान के लिए करें ये उपाय

यदि आप चाहते हैं कि आपके यहां बच्चों की किलकारियां गूंजे तो भगवान गणेश के बाल स्वरूप की पूजा करने से आपकी यह मनोकामना पूरी हो सकती है-

पूजन विधि
चतुर्थी तिथि की सुबह स्नान आदि करने के बाद भगवान श्रीगणेश के बाल स्वरूप की पूजा करें। उन्हें दूर्वा व फूल चढ़ाएं। लड्डू का भोग लगाएं और इस मंत्र का जाप पन्ने (रत्न) की माला से करें।

मंत्र- ऊं श्रीं ह्रीं क्लीं गणेश्चराय ब्रह्मरूपाय चारवे।
सर्वसिद्धिप्रदेशाय विघ्नेशाय नमो नम:।।
(ब्रह्मवैवर्तपुराण, गणपतिखण्ड 13/32)

इस मंत्र की 11 माला जाप करें। इसके बाद रोज इस मंत्र की 5 माला का जाप करें। इससे आपको जल्दी संतान सुख प्राप्त हो सकता है।


तेज दिमाग के लिए करें हरे रंग के श्रीगणेश की पूजा
ज्योतिष के अनुसार, जिन लोगों का मन किसी काम में नहीं लगता हो या दिमाग तेज नहीं चलता हो उन्हें हरे रंग के गणेशजी की पूजा करना चाहिए, क्योंकि बुद्धि का कारक बुध ग्रह होता है और हरा रंग का कारक बुध है। यदि ऐसे लोग हरे रंग के गणेशजी की पूजा करें तो उनके बुध ग्रह से संबंधित सभी दोष कम हो जाते हैं और इसका उन्हें लाभ मिलता है। चूंकि पढ़ाई पूरी तरह से मानसिक कार्य है इसलिए विद्यार्थियों के लिए भी हरे रंग के गणेशजी की पूजा करना शुभ होता है।