--Advertisement--

रोज करते हैं पूजा तो ध्यान रखें 7 बातें, बिना नहाए न तोड़ें पूजा के लिए फूल, शिवजी को न चढाएं शंख से जल

ग्रंथों में पूजा से जुड़े अनेक नियम बताए गए हैं। पूजा करते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए।

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 01:46 PM IST

रिलिजन डेस्क। हिंदू परिवारों में रोज सुबह-शाम भगवान की पूजा की जाती है। पूजा से जुड़े कुछ नियम ऐसे हैं, जिनके बारे में कम हो लोग जानते हैं। इस वजह से कई बार वे पूजा के दौरान गलतियां कर बैठते हैं। उज्जैन के पं. प्रवीण द्विवेदी के अनुसार, हमारे धर्म ग्रंथों में भी देवी-देवताओं के पूजन से संबंधित बहुत सी जरूरी बातें बताई गई हैं। ये बातें बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। आज हम आपको पूजा से जुड़ी यही जरूरी बातें बता रहे हैं-

1. गंगाजल, तुलसी के पत्ते, बिल्वपत्र और कमल, ये चारों बासी नहीं होते। इसलिए इनका उपयोग पूजा में कभी भी किया जा सकता है।

2. शिवजी को केतकी के फूल, सूर्यदेव को अगस्त्य के फूल न चढ़ाएं। भगवान श्रीगणेश की पूजा तुलसी के पत्ते वर्जित माने गए हैं।

3. जो व्यक्ति बिना नहाए फूल या तुलसी के पत्ते तोड़ देवताओं को अर्पित करता है, उसकी पूजा देवता ग्रहण नहीं करते।

4. पूजा में शुद्ध घी का दीपक अपनी बांई ओर व तेल का दीपक अपनी दाईं ओर रखना चाहिए। दीपक स्वयं कभी नहीं बुझाना चाहिए।

5. लिंगार्चन चंद्रिका के अनुसार भगवान सूर्य की सात, श्रीगणेश की तीन, विष्णु की चार और शिव की तीन परिक्रमा करनी चाहिए।

6. भगवान विष्णु को पीले वस्त्र, माता दुर्गा, सूर्यदेव व श्रीगणेश को लाल वस्त्र व भगवान शिव को सफेद वस्त्र अर्पित करने का विधान है।

7. भगवान शिव को हल्दी नहीं चढ़ाना चाहिए और न ही शंख से जल चढ़ाना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार ये दोनों काम शिव पूजा में निषेध हैं।

Related Stories