--Advertisement--

आसपास क्या हो रहा है इस पर ध्यान न दें, सिर्फ दिल की सुनें: कोहली को तेंडुलकर की सलाह

Dainik Bhaskar

Aug 08, 2018, 11:46 AM IST

भारत-इंग्लैंड के बीच 5 टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला 9 अगस्त से लॉर्ड्स में खेला जाएगा

विराट टेस्ट क्रिकेट में 22 शतक ल विराट टेस्ट क्रिकेट में 22 शतक ल

- एजबेस्टन टेस्ट में इंग्लैंड ने भारत को 31 रन से हराया था
- नासिर हुसैन ने कहा था कि रशीद जब क्रीज पर थे, तो अश्विन को मैदान से बाहर नहीं भेजना था


लंदन. नौ अगस्त से लॉर्ड्स में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट से पहले सचिन तेंडुलकर ने विराट कोहली को सलाह दी है। सचिन ने कहा कि कोहली सिर्फ अपने खेल पर ध्यान दें और दिल की बात सुनें। एजबेस्टन टेस्ट में भारत की हार के बाद कोहली की कप्तानी पर सवाल उठे थे। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा था कि पहले टेस्ट में कोहली के कुछ फैसले अच्छे नहीं थे। हालांकि, सचिन ने कहा कि विराट बेहतरीन बल्लेबाजी कर रहे हैं। वे ऐसे ही खेलते रहें। आसपास क्या हो रहा है, इस बारे में चिंता न करें।
पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने भारत को 31 रन से हराया था। इसके बाद नासिर हुसैन ने कहा था कि कोहली को हार की जिम्मेदारी लेनी चाहिए। इंग्लैंड के आदिल रशीद जब बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर थे तो भारत के टॉप स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को आराम के लिए मैदान से बाहर भेजना ठीक नहीं था। उनके बाहर जाने से टीम इंडिया ने मैच पर नियंत्रण खो दिया था।

संतुष्ट होने पर पतन शुरू हो जाएगा : खेल वेबसाइट क्रिकइन्फो को दिए इंटरव्यू में सचिन ने कहा, ‘"आसपास बहुत-सी बातें कही जाएंगी। आप जीवन में जो पाना चाहते हैं और जिस बात को लेकर आप आगे बढ़ रहे हैं, सिर्फ उसी पर फोकस रखें। परिणाम हमेशा आपके पक्ष में होंगे। मैं अपने अनुभव से कहना चाहता हूं कि आप जितने भी रन बना लें, वे कम ही होंगे। जिस दिन आप अपने प्रदर्शन संतुष्ट हो जाएंगे, वहां से पतन शुरू हो जाएगा। गेंदबाज केवल दस विकेट ले सकता है, लेकिन बल्लेबाज लगातार रन बना सकता है। इसलिए कभी संतुष्ट न हों, सिर्फ खुश रहें।’’

एजबेस्टन की उपलब्धि पर फख्र होना चाहिए : सचिन ने कहा कि कोहली को एजबेस्टन में हासिल व्यक्तिगत उपलब्धि पर फख्र होना चाहिए। उन्हें ध्यान रखना चाहिए कि 2014 में उनका इंग्लैंड दौरा ठीक नहीं था। विराट ने 2014 के इंग्लैंड दौरे पर पांच टेस्ट में केवल 134 रन बनाए थे। इस दौरान उनका सर्वोच्च स्कोर 39 था। वे छह बार दहाई के आंकड़े को भी नहीं छू सके थे। जबकि इस बार पहले ही टेस्ट में कोहली ने दोनों पारियों में कुल 200 रन बनाए।

X
विराट टेस्ट क्रिकेट में 22 शतक लविराट टेस्ट क्रिकेट में 22 शतक ल
Astrology

Recommended

Click to listen..