--Advertisement--

कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन के फाइनल में पहली बार साइना और सिंधु आमने-सामने, दोनों के कोच गोपीचंद

साइना नेहवाल 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं। सिंधु ने 2014 सीडब्ल्यूजी गेम्स में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

Danik Bhaskar | Apr 14, 2018, 06:49 PM IST
कॉमनवेल्थ गेम्स में साइना और सिंधु रविवार को वुमन्स सिंगल्स फाइनल मुकाबले में भिड़ेंगी। कॉमनवेल्थ गेम्स में साइना और सिंधु रविवार को वुमन्स सिंगल्स फाइनल मुकाबले में भिड़ेंगी।

गोल्ड कोस्ट. कॉमनवेल्थ में बैडमिंटन वुमन्स सिंगल्स में पहली बार भारतीय शटलर साइना नेहवाल और पीवी सिंधु आमने-सामने होंगी। दोनों खिलाड़ियों के कोच पुलेला गोपीचंद हैं। मुकाबला रविवार तड़के होगा। इससे पहले भी दोनों खिलाड़ी तीन बार फाइनल में भिड़ चुकी हैं। इनमें साइना को दो बार जीत मिली है। मेन्स सिंगल्स में भी किदांबी श्रीकांत गोल्ड के लिए मलेशिया के ली चॉन्ग वेई से भिड़ेंगे।

साइना-सिंधु हेड टू हेड

साइना सिंधु
उम्र 28 22
रैंकिंग 12 3
सिंगल्स करियर 477 मैच खेले- 339 जीते

346 मैच खेले-242 जीते

फाइनल मुकाबलों में सिंधु vs साइना

साल टूर्नामेंट विजेता
2014 इंडिया ग्रांड प्रिक्स गोल्ड साइना नेहवाल
2017 योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन पीवी सिंधु
2018 दाईहात्सू इंडोनेशिया मास्टर्स साइना नेहवाल
2018 कॉमनवेल्थ वुमन्स सिंगल्स फाइनल

--

कॉमनवेल्थ में सिंधु-साइना की परफॉर्मेंस

साइना: 2010 में भारत में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में साइना ने गोल्ड जीता था। उन्होंने मलेशिया की वॉन्ग म्यू चू को हराया था। साइना ने ये जीत पहला सेट हारने के बाद हासिल की थी।
सिंधु: 2014 में ग्लास्गो में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स के सेमीफाइनल में कनाडा की मिशेल ली से हार गई थीं। इसके बाद ब्रॉन्ज मेडल के लिए हुए मुकाबले में उन्हें जीत मिली थी।

रविवार को बैडमिंटन में 3 मेडल तय
1) वुमन्स डबल्स:
साइना नेहवाल और पीवी सिंधु के बीच मुकाबला होगा। गोल्ड और सिल्वर मेडल दोनों ही भारत को मिलना तय है।
2) मेन्स सिंगल्स: किदांबी श्रीकांत का मुकाबला फाइनल में ली चॉन्ग वेई से होगा। हार की स्थिति में भी सिल्वर मेडल पक्का है।
3) मेन्स डबल्स: सात्विक रानकीरेड्डी और चिराग शेट्टी का फाइनल में मुकाबला इंग्लैंड के मार्कस एलिस और क्रिस लैंग्रिज से होगा। हार होती है, तब भी सिल्वर मेडल पक्का है। कॉमनवेल्थ गेम्स में मेन्स डबल्स में मेडल हासिल करने वाली ये पहली भारतीय जोड़ी होगी।
4) वुमन्स डबल्स: अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी ब्रॉन्ज मेडल के लिए मलेशिया की मेई कुआन चाऊ और विवियन हू से भिड़ेंगी।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने कोच गोपीचंद के साथ पीवी सिंधु और साइना नेहवाल। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने कोच गोपीचंद के साथ पीवी सिंधु और साइना नेहवाल।