संजीवनी क्रेडिट सोसायटी ने 1100 करोड़ के फर्जी लोन बांटे, 30 लाख फर्जी कागजात भी बना लिए

News - निर्भया केस की सुनवाई के बीच जज का शॉर्ट ब्रेक... और सुनाया ये फैसला; तीन महीने की बच्ची मां को सौंपी, कहा: मां-बाप के...

Jan 16, 2020, 07:20 AM IST
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
निर्भया केस की सुनवाई के बीच जज का शॉर्ट ब्रेक... और सुनाया ये फैसला; तीन महीने की बच्ची मां को सौंपी, कहा: मां-बाप के झगड़े में मासूम को न पीसें

इंदौर | मप्र लोकसेवा आयोग की राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा में भील जनजाति को लेकर पूछे गए आपत्तिजनक सवाल पर अजाक थाना पुलिस ने एट्रोसिटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। इसमें पुलिस ने पीएससी के अफसरों को आरोपी बनाया है। जांच के बाद आरोपी अफसरों के नाम तय होंगे। मामले में जय आदिवासी युवा संगठन (जयस) ने शिकायत की थी। बुधवार को जांच के बाद शिकायत सही पाई गई।

राजस्थान की 3 क्रेडिट सोसायटियों में 16 हजार करोड़ का फ्रॉड... भास्कर का सबसे बड़ा खुलासा

96 हजार पेज की चार्जशीट में सामने आया फर्जीवाड़ा

खंडवा : गोवा में लूटपाट कर साेना बेचने आगरा जा रहे भोपाल के 4 बदमाश अरेस्ट

1 किलो 519 ग्राम सोना, अमेरिकन डायमंड सहित 1.5 लाख रु. नगद बरामद

आरोपियों से प्रेस का कार्ड भी मिला| एसपी ने बताया आरोपियों के पास अन्य प्रमाण पत्रों के साथ प्रेस कार्ड भी मिला है। आरोपियों में अबू हैदर पिता हाजी अली निवासी संजय नगर, मेंहदी हसन निवासी इमामबाड़ा, सादिक पिता रफीक खान निवासी संजय नगर और हसन पिता आजम सैयद निवासी भोपाल रेलवे स्टेशन के निवासी है। आरोपियों को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

2-2 कराेड़ तक के लाेन कैश में बांटे, न इनकम टैक्स विभाग ने देखा, न अाॅडिट में पकड़ा

क्रेडिट सोसायटियों ने खर्च दिखाने के लिए अनाप-शनाप गिफ्ट्स की भी फेहरिस्त निवेशकों को दिखाई। आदर्श क्रेडिट सोसायटी ने इस फर्जीवाड़े में सबसे बड़ी भूमिका निभाई। सोसायटी ने 20 लाख निवेशकों से रकम ऐंठी, 28 राज्यों में शाखाएं खोलीं। आदर्श क्रेडिट को-आॅपरेटिव सोसायटी में जमा राशि का खर्च दिखाने के लिए डेढ़ लाख लोगों को बतौर गिफ्ट कोट-पैंट का कपड़ा देना दिखाया गया। एक कोट-पैंट की कीमत 15 हजार थी। यानी 225 करोड़ रुपए के कोट-पैंट बांटना बताया। एसओजी की जांच में कोट-पैंट खरीद के सभी बिल फर्जी पाए गए। अब एसओजी कंपनी के दावे की जांच के लिए मुंबई में उन कंपनियों से बात कर रही है, जिनके बिल आदर्श क्रेडिट सोसायटी ने कोट-पैंट की खरीद के एवज में लगाए हैं।

संजीवनी ने 100 फर्जी कंपनियां खड़ी कर दीं

संजीवनी क्रेडिट सोसायटी ने लोन के ग्राहक के तौर पर 100 फर्जी कंपनियां दिखाईं। इन सभी कंपनियों के प्रॉफिट और डिवीडेंड के फर्जी कागज दिखाकर निवेशकों को झांसे में रखा। सिर्फ राजस्थान में ही इसके 146991 निवेशक थे, जिन्होंने 953 करोड़ रुपए का निवेश किया था।

यूं समझें मामला...एक साल पहले ही हुई शादी, होते थे झगड़े, प|ी का आरोप- पति ने पीटकर घर से निकाला, बच्ची छीनी

दिल्ली निवासी एक युवती ने वकील मलय के माध्यम से दिल्ली हाईकोर्ट में 11 जनवरी को एक हैबियस कार्पस याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ता का कहना था कि उसकी शादी एक साल पहले जयपुर के एक व्यवसायी से हुई थी। इस शादी से उसकी तीन माह की एक बच्ची है। शादी के बाद से ही उसका पति अक्सर उससे झगड़ा करता रहता है। 1 जनवरी को उसके पति ने उसकी पिटाई कर उसे घर से निकाल दिया। कहा-जज साहब मेरे पति ने मेरी 3 माह की दुधमुही बच्ची मुझसे छीन ली है, मुझे मेरे दिल का टुकड़ा वापस दिला दो। मैं अपनी बेटी के बिना नहीं रह सकती। मेरी दूध पीती बेटी को भी मां के दूध की जरूरत है। वह भी अपनी मां के बिना नहीं रह पाएगी।

पति का आरोप खुद छोड़कर गई

ढाबे वाले ने खाना नहीं दिया तो तहसीलदार ने धमकाया, परिवार ने मांगी इच्छा मृत्यु

भील मामला : पीएससी के अफसराें पर इंदौर में एट्राेसिटी एक्ट में केस दर्ज

नवजीवन क्रेडिट सोसायटी: करोड़ों रुपए के फर्जी लोन सॉफ्टवेयर के जरिये ही बांट दिए

नवजीवन क्रेडिट सोसायटी ने तो फर्जी लोन बांटने में एक नया ही रिकॉर्ड कायम कर लिया। सोसायटी ने किसी तरह के कोई कागजात ही नहीं जमा किए। निवेशकों को बताया कि सारा लोन सॉफ्टवेयर के जरिये बांटा जा रहा है। सॉफ्टवेयर में लोगों के नाम और उन्हें दिए गए लोन की राशि तो दर्ज है, मगर ये सारे लोग फर्जी हैं। एसओजी ने सोसायटी के निदेशक गिरधर सिंह ढाका को सितंबर 2019 में गिरफ्तार किया था। सोसायटी ने राजस्थान में 206 समेत देश भर में 228 शाखाएं खोली। 193821 निवेशकों को सदस्य बनाया। इसमें 391.21 करोड़ रु. की राशि निवेश की गई। जिसमें राजस्थान में 349.37 करोड़ रु. निवेश किए गए।

नाम और पूरी प्रक्रिया ही फर्जी : मिड्‌ढा


इंदौर कितना स्मार्ट हुआ देखने आए थे, हिंदू का बड़ा हितैषी कौन, इस पर भिड़ गए

फोन पर ॐ नम: शिवाय सुना सांसद ने साबित किया- ‘हिंदुत्व का ठेका किसी एक का नहीं’

इंदौर| स्मार्ट सिटी के काम देखने आए संसदीय स्थायी समिति के सदस्य वापसी में एयरपोर्ट के वीआईपी लाउंज में हिंदुत्व का सच्चा हितैषी कौन है, इसकी बहस में उलझे थे। राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह, तृणमूल सांसद कल्याण बैनर्जी और शंकर लालवानी के बीच यह बहस थी...

बैनर्जी: आप आने में लेट क्यों हो गए?

दिग्विजय: गोम्मटगिरि चला गया था।ं सीएम था, तब यहां गोशाला के लिए जमीन दी थी। प्रदेश भर मेंजमीन दी थी।

बैनर्जी: सही बात है, हिंदूत्व का सारा ठेका उन्होंने (भाजपा) ही ले रखा है क्या? हम भी हिंदू हैं। अच्छा एक काम करो, मेरे मोबाइल पर कॉल करो। (कॉल किया तो ओम नम: शिवाय सुनाई दिया)

बैनर्जी: आप जानते हैं दीदी रोज एक घंटे पूजा-पाठ करती हैं। ये लोग तो सिर्फ नारे लगाते हैं, जय श्रीराम... ।

दिग्विजय: भाजपाई तो नारा भी अधूरा लगाते हैं, सीता मैया को भूल जाते हैं। इन्हें जय-जय सियाराम का नारा लगाना चाहिए। दिग्विजय: 1994 में मैंने सबसे पहले गोसेवा आयोग बनाया था। भाजपा सरकार ने इसे भंग कर दिया (लालवानी की ओर इशारा)।

लालवानी : हमारी सरकार ने गोसेवा आयोग बनाया।

दिग्विजय: हां, हिंदू सनातन धर्म है, यह सभी का है।

प्रदेश के दौरे से एक दिन पहले सोनिया गांधी से मिले सिंधिया

यूं बांटे फर्जी लोन

फर्जी नाम लोन राशि

धनसिंह 1.95 करोड़

मांगीलाल 1.97 करोड़

राधेश्याम 1.17 करोड़

वीरमा राम 78 लाख

सुरेंद्र 1.70 करोड़

रणजीत यादव 1.90 करोड़

ओमप्रकाश 1.95 करोड़

पुखराज 1.00 करोड़

हरीश कुमार 2.35 करोड़

भोपाल|कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को नईदिल्ली में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। हालाकि सिंधिया ने मुलाकात के बारे में मीडिया से चर्चा नहीं की। सिंधिया की गांधी से यह मुलाकात उनके प्रदेश के गुरुवार से हो रहे दौरे के एक दिन पहले हुई है, जिससे सियासत गरमा गई है। इसके कई राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं।

...इधर, कलाकारजी और मिस्टर बंटाधार में कॉम्पीटिशन, कौन किसको पगड़ी पहनाए

ग्रेटरकैलाश रोड पर दिग्विजय सिंह और कैलाश विजयवर्गीय एक-दूसरे को अपनी पगड़ी पहनाते हुए। बता दें कि इससे पहले विजयवर्गीय दिग्विजय को मि. बंटाधार और दिग्विजय उन्हें कलाकारजी बोल चुके हैं।

जज ने ऐसे समझाया... इसमें बच्ची का क्या कसूर? आपस में विवाद सुलझाएं

जजों ने पति व प|ी को समझाते हुए कहा कि आपके झगड़े में इस बच्ची का क्या कसूर है? मां-बाप के झगड़े में मासूम को नहीं पीसना चाहिए। बच्ची इतनी छोटी है कि वह मां के दूध पर निर्भर है। आप दोनों को आपस में बातचीत कर इस विवाद को सुलझाना चाहिए। आपके झगड़े में बच्ची मां के दूध से महरूम हो गई है। आप दोनों में से कसूर किसी का भी हो, मगर ज्यादा प्रभावित बच्ची हो रही है। फिलहाल कोर्ट बच्ची को मां के सुपुर्द करने का आदेश जारी कर रही है। मगर साथ ही उसके पिता को भी अपनी बच्ची से मिलने का पूरा कानूनी अधिकार दे रही है। बच्ची का पिता, युवती के घर जाकर उससे मिलेगा। दोनों बातचीत कर विवाद को सुलझाने का प्रयास करें। उनके बीच के इस प्रयास से विवाद सुलझा या नहीं? ये अगली सुनवाई में 20 जनवरी को बताएं।

4 माह बाद सिविल सेवा मेंस का रिजल्ट घाेषित

नई दिल्ली/अजमेर| संघ लोक सेवा आयोग की अाेर से आयोजित सिविल सेवा मुख्य परीक्षा-2019 का परिणाम करीब 4 माह बाद बुधवार काे जारी कर दिया गया। अब अगले माह इंटरव्यू किए जाने की तैयारी है। इधर, प्रदेश में राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से करीब 7 महीने पहले ली गई आरएएस 2018 मुख्य परीक्षा का परिणाम अब तक जारी नहीं हो पाया है। अभ्यर्थियों में असंताेष है। आरएएस मुख्य परीक्षा 2018 का आयोजन पिछले साल 25-26 जून को हुअा था। परीक्षा में 18 हजार अभ्यर्थी प्रविष्ट हुए थे। संघ लोक सेवा आयोग की अाेर से सिविल सेवा मुख्य परीक्षा के रिजल्ट के बाद इंटरव्यू के लिए याेग्य अभ्यर्थियाें के रोल नंबर जारी किए जा चुके हैं।

गैंग्स ऑफ ब्लैकमेलर्स

श्वेता स्वप्निल से छह घंटे तक पूछताछ, नए नामों का खुलासा, इन्हें भी नोटिस भेजे जाएंगे

भास्कर न्यूज | भोपाल

आयकर विभाग की इन्वेस्टिगेशन विंग ने बुधवार को हनी ट्रैप गैंग की तीसरी और सबसे हाईप्रोफाइल सदस्य श्वेता स्वप्निल जैन से 6 घंटे पूछताछ की। सूत्रों के मुताबिक इस दौरान उससे करीब 300 सवाल पूछे गए। इनमें कई नए नामों का खुलासा हुआ है। विभाग जल्द ही पूछताछ के लिए इन लोगों को नोटिस भेजेगा। इसके साथ ही इस गैंग की तीन अहम सदस्यों श्वेता विजय जैन, आरती दयाल और श्वेता स्वप्निल से पूछताछ का पहला दौर खत्म हो गया। विभाग अब इन तीनों के चार्टर्ड अकाउंटेंट्स (सीए) से पूछताछ करेगा। इनसे उन फाइनेंशियल एंट्रीज के बारे में पूछताछ की जाएगी।

फोटो : ओपी सोनी

पतंगबाजी करें...पर जिंदगी की डोर न कटने दें

जयपुर: मांझे से कटी गर्दन...141 टांके 2 दिन में 400 लोग घायल

जयपुर| मकर संक्रांति पर बुधवार को भी जमकर पतंगबाजी हुई। मांझे की वजह से कई लोग घायल हुए और अस्पताल पहुंचे। इनमें से 44 जनों को भर्ती करना पड़ा। ट्रोमा सेंटर सहित सभी सरकारी अस्पताल और निजी अस्पतालों में बुधवार शाम तक घायल पहुंचते रहे। दो दिन में 400 से अधिक लोग घायल हुए। बुधवार को 120 से अधिक लोग घायल होकर अस्पतालों में पहुंचे। इनमें से 44 जनों को भर्ती किया गया। ट्रोमा सेंटर सहित जयपुरिया, गणगौरी, कांवटिया और अन्य निजी अस्पतालों में बुधवार शाम तक घायल पहुंचते रहे। ट्रोमा सेंटर प्रभारी डॉ. जगदीश मोदी ने बताया कि दो दिन में 218 मरीज अस्पताल पहुंचे, जिनमें से 75 लोगों को भर्ती करना पड़ा। मंगलवार काे दो जनों की मौत हो गई थी। राधेश्याम (45) शैलबी हॉस्पिटल के पास से बाइक से जा रहे थे। तभी मांझे से उनकी गर्दन कट गई। विंड पाइप समेत शरीर को खून की सप्लाई करने वाली नस भी कट गई। उन्हें तुरंत आईसीयू में भर्ती किया गया।

भोपाल में रेलवे में भर्ती कराने वाला गिरोह पकड़ा

मप्र: रेलवे की फर्जी नौकरी देकर आवेदकों को 2 माह तक वेतन देते थे; 100 करोड़ ठगे

भास्कर न्यूज | भोपाल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस ने रेलवे में टिकट कलेक्टर और असिस्टेंट स्टेशन मास्टर बनाने के नाम पर बेरोजगारों को ठगने वाले बर्खास्त सिपाही और उसके भतीजे को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों न केवल फर्जी नौकरी देते थे, बल्कि आवेदकों के बैंक खाते में एक-दो महीने सैलरी भी डाल देते थे, ताकि वे झांसे में फंसे रहें।

डीआईजी इरशाद वली के मुताबिक यह गिरोह 10 साल से सक्रिय था और अब तक करीब एक हजार लोगों से 100 करोड़ रुपए की ठगी कर चुका है। पुलिस ने इनके पास से रेलवे भर्ती से जुड़े 20 हजार दस्तावेज जब्त किए हैं। इस गिरोह में रेलवे के दो कर्मचारी भी शामिल हैं।

नई दिल्ली, गुरुवार 16 जनवरी, 2020 |

शहडाेल : मंत्री ने सीएस व सीएमएचअाे काे हटाया

शहडोल| जिला अस्पताल में सोमवार-मंगलवार दरम्यानी रात हुई 6 बच्चों की मौत का सच जानने बुधवार को यहां आए स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने इस घटना को दुखद बताया। उन्होंने सीएमएचओ डॉ. राजेश पांडेय तथा सिविल सर्जन डॉ. उमेश नामदेव को तत्काल प्रभाव से कार्यमुक्त के निर्देश देते हए कहा कि घटना की जांच की जा रही है, जो भी दोषी पाए जाएंगे उन्हें दंडित किया जाएगा। उन्होंने तीन दिन के भीतर अस्पताल की सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के भी निर्देश दिए। इस दौरान उनके साथ जिले के प्रभारी मंत्री ओंकार सिंह तथा स्वास्थ्य सचिव पल्लवी जैन भी मौजूद रहीं।

विदेश यात्रा का खर्च किसने उठाया ? जांच टीम ने श्वेता स्वप्निल से उसकी विदेश यात्राओं में हुए खर्च की जानकारी मांगी। पिछले विधानसभा चुनाव से पहले उसे दुबई भेजा गया था। टीम ने पूछा वह किसके इशारे पर दुबई गई थी? खर्च में किस-किस ने मदद की? खर्च में हवाई टिकट, होटल खर्च और शॉपिंग तक शामिल हैं।

राजेश दोहरे सुधीर दोहरे

जिससे 12.50 लाख ऐंठे, उसी की शिकायत पर पकड़ा

डीआईजी के मुताबिक, गोपाल ठाकुर ने शिकायत की थी कि बर्खास्त सिपाही सुधीर दोहरे, उसका भतीजा राजेश दोहरे, संतोष गुहा, अमित, संतोष हलवाई आदि ने रेलवे में नौकरी के नाम पर 12.50 लाख रु. ठगे हैं। पुलिस ने इनके खिलाफ जांच शुरू की तो मामला गंभीर निकला। फिलहाल पुलिस ने बुधवार को सुधीर को राजेश के साथ गिरफ्तार कर लिया।

4

New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
X
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents
New Delhi News - sanjeevani credit society distributed fake loans worth 1100 crores also made 30 lakh fake documents

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना