एसबीआई ने 5 शाखाओं को दूसरी शाखा में किया मर्ज

Motihari News - कोरोना के प्रभाव को देखते हुए बैंक शाखाओं में काम का समय बदल गया है। अब बैंक शाखा में सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक ही...

Mar 27, 2020, 07:35 AM IST

कोरोना के प्रभाव को देखते हुए बैंक शाखाओं में काम का समय बदल गया है। अब बैंक शाखा में सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक ही काम हो रहा है। उसके बाद शाखा बंद हो जाता है। यह नियम बुधवार से एसएलबीसी (स्टेट लेवल बैंकर्स कमेटी) की गाइडलाइन आने के बाद शुरू हुई है। जिले के सभी बैंक शाखाओं में यह नियम प्रभावी कर दिया गया है।

इतना ही नहीं बैंक खाताधारकों को मिनिमम बैंकिंग सर्विसेज के आधार पर सेवा दे रही है। यानी वित्तीय लेनदेन को छोड़कर सभी काम बंद हैं। एक लाख से कम की जमा-निकासी नहीं हो रही है। बैंक खाताधारकों को मोबाइल बैंकिंग, नेट बैंकिंग या एटीएम के माध्यम से पैसा निकालने की सलाह दे रही है। ताकि बैंक शाखाओं ऊपर बोझ न बढ़े व सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को प्रभावी बनाया जा सके। एसएलबीसी ने पांच किलोमीटर रेडियस में पड़ने वाले छोटे ब्रांच को बड़े ब्रांच में मर्ज करने का गाइडलाइन जारी किया था। जिसके आधार पर एसबीआई ने जिले के पांच शाखाओं को समीप के अन्य शाखा से मर्ज कर दिया है। चैलाहा शाखा को बापूधाम से, चांदमारी शाखा को एडीबी से, छतौनी शाखा को बाजार ब्रांच से, रक्सौल बाजार शाखा को रक्सौल शाखा से व सपही शाखा को तुरकौलिया से मर्ज किया गया है। जिन शाखाओं को मर्ज किया गया है वहां फिलहाल काम बंद है। वहां के खाताधारक अपने वित्तीय लेनदेन के लिए नए शाखा से संपर्क करेंगे। वायरस के संक्रमण से बचने के लिए बैंक शाखाओं में सोशल डिस्टेंसिंग को लागू कर दिया गया है। शाखाओं में लोगों के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है। जिन्हें बेहद जरूरी है उनके लिए काउंटर बनाया गया है। कर्मी शाखा के अंदर रह कर ही आने वाले खाताधारक का काम कर रहे हैं। इस तरह की व्यवस्था एसबीआई एडीबी शाखा में दिखा। शाखा प्रबंधक अशोक कुमार तिवारी ने बताया कि संक्रमण से बचने के लिए बैंक के गेट पर काउंटर खोल दिया गया है। आने वाले बाहर से ही अपना काम करा रहे हैं। आने वालों को पहले सेनेटाइजर दिया जा रहा है।

रोटेशन पर काम कर रहे 18 शाखाओं के कर्मी

एसबीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक अमित रंजन ने बताया कि छोटे शाखाओं को बड़े शाखाओं में मर्ज करने के साथ ही कर्मियों से रोटेशन के आधार पर काम लिया जा रहा है। बड़े शाखाओं के कर्मियों को एक-एक दिन अंतराल कर बैंक बुलाया जा रहा है। साथ ही वैसे शाखा जहां एक मैनेजर व एक कर्मी है वहां रोटेशन से छुट ले रहे कर्मियों को लगाया गया है। जिले में 18 ऐसे ब्रांच है जहां इस तरह की व्यवस्था की गई है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना