एसबीआई को लगातार तीसरी तिमाही में घाटा, अप्रैल-जून में 4,876 करोड़ का नुकसान / एसबीआई को लगातार तीसरी तिमाही में घाटा, अप्रैल-जून में 4,876 करोड़ का नुकसान

DainikBhaskar.com

Aug 10, 2018, 03:23 PM IST

अप्रैल-जून में एनपीए के बदले 19,228 करोड़ रुपए की प्रोविजनिंग

SBI Q1 Result: Rs 4876 cr loss due to bad loans rise

  • एसबीआई को पिछली बार 7,718 करोड़ का सबसे बड़ा तिमाही नुकसान हुआ
  • बैंकिंग इतिहास का सबसे बड़ा तिमाही नुकसान पिछली बार पीएनबी को हुआ

नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई को लगातार तीसरी तिमाही में घाटा हुआ है। बैंक ने शुक्रवार को बताया कि अप्रैल-जून तिमाही में 4,875.85 करोड़ का नुकसान हुआ। तीन तिमाही में घाटा बढ़कर 15,010 करोड़ रुपए हो गया। पिछले साल की अप्रैल-जून तिमाही में 2,006 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

आय में सालाना आधार पर इजाफा हुआ, जबकि तिमाही आधार पर कमी आई है। इस बार इनकम 65,492.67 करोड़ रुपए रही। पिछली तिमाही में आय 68,436 करोड़ और अप्रैल-जून 2017 में 62,911.08 करोड़ रुपए रही थी। अप्रैल-जून 2018 में बैंक ने एनपीए के बदले 19,228 करोड़ रुपए की प्रोविजनिंग की। जून 2017 में यह 8,929.48 करोड़ रुपए थी।

तीन क्वार्टर में 15,010 करोड़ का नुकसान

तिमाही घाटा (रुपए करोड़)
अप्रैल-जून 2018 4,876
जनवरी-मार्च 2018 7,718 (अब तक सबसे ज्यादा)
सितंबर-दिसंबर 2017 2,416

ग्रॉस एनपीए 10.69% हुआ

तिमाही ग्रॉस एनपीए नेट एनपीए
अप्रैल-जून 2018 10.69% (2,12,840 करोड़ रु) 5.29% (99,236 करोड़ रु)
जनवरी-मार्च 2018 10.91% (2,23,427 करोड़ रु) 5.73% (1,10,855 करोड़ रु)
अप्रैल-जून 2017 9.97% (1,88,068 करोड़ रु) 5.97% (1,07,759 करोड़ रु)

एसबीआई के शेयर में 5% गिरावट : नतीजों के बाद शेयर में गिरावट आई। बीएसई पर यह 3.79% गिरावट के साथ 304.45 पर बंद हुआ। इंट्रा-डे में 4.85% तक लुढ़ककर 301.10 रुपए पर पहुंच गया। एनएसई 4.63% नीचे 302.70 रुपए पर क्लोजिंग हुई। कारोबार के दौरान 5.32% गिरावट के साथ 300.50 रुपए तक फिसल गया। इस गिरावट के एसबीआई का मार्केट कैप 10,708.93 करोड़ रुपए घटकर 2.72 लाख करोड़ रुपए रह गया।

X
SBI Q1 Result: Rs 4876 cr loss due to bad loans rise
COMMENT