मरीज से मारपीट मामले में सीनियर-जूनियर डाॅक्टर, नर्स व सुरक्षाकर्मियाें से हुई पूछताछ

News - रिम्स के न्यूराे वार्ड में भर्ती मरीज की माैत के बाद उसके परिजनाें, डाॅक्टराें, सुरक्षा गार्डाें अाैर...

Feb 15, 2020, 07:56 AM IST

रिम्स के न्यूराे वार्ड में भर्ती मरीज की माैत के बाद उसके परिजनाें, डाॅक्टराें, सुरक्षा गार्डाें अाैर सुरक्षाकर्मियाें के बीच हुई मारपीट की जांच काे लेकर शुक्रवार की सुबह 11 बजे स्वास्थ्य विभाग की जांच टीम रिम्स पहुंची। स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव चंद्रकिशाेर उरांव की अध्यक्षता में अधीक्षक विवेक कश्यप के कार्यालय में बैठक हुई। इसमें न्यूराे वार्ड के सीनियर-जूनियर डाॅक्टर, नर्स, सुरक्षा गार्ड शामिल हुए। विशेष सचिव चंद्रकिशाेर उरांव, स्वास्थ्य निदेशक प्रमुख डाॅ. जाेगेंद्र सांगा अाैर तकनीकी सचिव डाॅ. राकेश दयाल की तीन सदस्यीय टीम ने 10 फरवरी काे हुई घटना के बारे में पूछताछ की। अधीक्षक विवेक कश्यप ने बताया कि हाईकाेर्ट के अादेश पर कमेटी मामले की जांच कर रही है।

लॉ छात्रा से दुष्कर्म : आज निर्णायक बहस

कांके के संग्रामपुर में लॉ की छात्रा से हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में शुक्रवार को बचाव पक्ष के वकीलों ने बहस की। जेल में बंद सभी 12 आरोपियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग से कोर्ट में पेश किया गया। मामले में शनिवार को भी बहस की जाएगी। लोक अभियोजक भी अपना पक्ष रखेंगे। मामले की सुनवाई प्रधान न्यायायुक्त नवनीत कुमार कर रहे हैं।

कोयला व्यवसायी की जमानत याचिका खारिज

चतरा के टंडवा स्थित मगध व आम्रपाली कोयला परियोजना से जुड़े टेरर फंडिंग मामले में जेल में बंद व्यवसायी सुदेश केडिया की जमानत याचिका खारिज कर दी गई। एनआईए ने रातू रोड स्थित हनुमान मंदिर के पास से गिरफ्तार कोयला व्यवसायी सुदेश केडिया एवं एक ट्रांसपोर्टर अजय सिंह को पिछले 10 जनवरी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

एक्सपायरी पोषाहार देने पर काेर्ट ने मांगी कार्रवाई रिपाेर्ट

चीफ जस्टिस डॉ. रवि रंजन अाैर जस्टिस सुजीत नारायण की काेर्ट ने अांगनबाड़ी केंद्राें से गर्भवती महिलाअाें व बच्चाें काे एक्सपायरी पाेषाहार देने के मामले में सरकार से रिपाेर्ट मांगी है। पूछा है कि इसमें दाेषी काैन थे, क्या कार्रवाई हुई, अगर नहीं हुई ताे क्याें।

सिख दंगा जांच अायाेग काे सुविधाएं देने का निर्देश


सिख दंगा पीड़िताें की पहचान तथा उन्हें सुविधाएं दिलाने के लिए बने सिख दंगा अायाेग काे संसाधन उपलब्ध नहीं कराने की शिकायत पर झारखंड हाईकाेर्ट ने नाराजगी जताई। अायाेग काे तत्काल संसाधन उपलब्ध कराने का निर्देश सरकार काे दिया है।

युवती का अपहरण व दुष्कर्म के दोषी को 10 वर्ष कारावास

अपर न्यायायुक्त एमपी मिश्र की अदालत ने शुक्रवार को युवती का अपहरण कर धोखे से निकाह और दुष्कर्म करने के जुर्म में अभियुक्त फराज अंसारी उर्फ फरार शम्स को 10 साल की सजा सुनाई है। साथ ही 45 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना