--Advertisement--

यूएस ओपन: सेरेना ने अंपायर पर लगाया लैंगिक भेदभाव का आरोप, कहा- मैं बेईमान नहीं

सेरेना इस साल नाओमी ओसाका के हाथों लगातार दूसरा मैच हार गईं

Danik Bhaskar | Sep 09, 2018, 11:13 AM IST

खेल डेस्क. अमेरिका की टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स ने यूएस ओपन फाइनल विवाद पर कहा कि उन्होंने बेईमानी नहीं की। अंपायर ने उनके साथ लैंगिंक भेदभाव किया। उन्होंने कहा कि एक गेम का जुर्माना लगाना ठीक नहीं था। जापान की नाओमी ओसाका ने सेरेना को फाइनल में 6-2,6-4 से हरा दिया। इस जीत के साथ ओसाका ग्रैंडस्लैम जीतने वाली जापान की पहली महिला खिलाड़ी बन गईं।

सेरेना ने कहा, 'पुरुषों के मुकाबलों में अगर यही होता तो अंपायर जुर्माना नहीं लगाते। वे तो अंपायर को इससे भी बुरा-भला कह देते हैं। मेरी एक बेटी है और मैं उसके सामने एक अच्छा उदाहरण प्रस्तुत करना चाहती हूं। बेईमानी के बजाय मैं मैच हारना पसंद करूंगी।'

कोच ने माना- इशारा किया था : कोच मोराटोग्लू ने सेरेना को मैच के दौरान इशारा करने की बात मान ली। उन्होंने कहा, "हां, मैं उसे कोचिंग दे रहा था, लेकिन मुझे नहीं लगता कि उसने मेरी तरफ एक बार भी देखा।" टेनिस के नियमों के अनुसार, कोर्ट पर कोचिंग देना ग्रैंडस्लैंम टूर्नामेंट में प्रतिबंधित है। हालांकि, अन्य सभी मैचों में ऐसा करना मान्य है।