अप्रैल में तय शादियों पर शामत, गाड़ी टेंट व कैटरर वाले नहीं ले रहे बुकिंग

Bokaro News - कोरोना को लेकर 15 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। इधर अप्रैल में जिनके घर शादी की तारीख तय है, उनकी परेशानी...

Mar 27, 2020, 06:25 AM IST

कोरोना को लेकर 15 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। इधर अप्रैल में जिनके घर शादी की तारीख तय है, उनकी परेशानी बढ़ गई है। दूल्हे राजा और दुल्हनिया को फेरे लेने में कोरोना बाधक बन रही है। पंडित मार्कण्डेय दुबे के अनुसार अप्रैल माह के 15, 16, 17, 20, 23 और 26 अप्रैल को विवाह के शुभ मुहूर्त तय हैं। इधर वर-वधु पक्ष 31 मार्च तक लॉकडाउन की घोषणा के बाद ज्यादा चिंतित नहीं थे। उन्हें उम्मीद थी कि अप्रैल की 15 तारीख तक तैयारी पूरी कर ली जाएगी, लेकिन 15 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा के बाद शादी की व्यवस्था में जुटे लोगों की टेंशन बढ़ गई है। एक तरफ शादी के सपने सजाए दूल्हे राजा तो दूसरी तरफ मेहंदी लगाकर तैयार होने वाली दुल्हनियां की भी फिक्र बढ़ गई है। कोरोना के भय से उनके बीच होने वाले रिश्ते में अभी और इंतजार करना होगा।

बेटी के पिता हो गए परेशान : बेटी के घर वालों को पूरी उम्मीद है कि अप्रैल में शादी के दिन टलेंगे। अपनी बिटिया की शादी की तैयारी कर रहे सेक्टर 12 बी निवासी श्याम सुंदर प्रसाद ने कहा कि भला बताइए कैसे होगी तैयारी। 17 अप्रैल को पहले से ही शादी तय हो गई थी। खरीदारी में समय लगेगा। समय से भी ज्यादा दिक्कत है कि लॉकडाउन से सारी दुकानें बंद हैं। आखिर दुकानें खुलेगी तभी तो खरीदारी होगी। 15 अप्रैल के बाद लगन चालू है और इधर 15 अप्रैल तक लॉकडाउन होने से कुछ भी व्यवस्था कर पाना संभव नहीं है। वे बताते हैं कि उन्होंने अपने होने वाले संबंधी से शादी की तारीख आगे बढ़ाने के लिए साफ-साफ कह दिया है।

दुकानदार बोले-लग्न के बाजार ठप

कपड़े की दुकान चलाने वाले सेक्टर 4 के दुकानदार प्रभु साव बताते हैं कि कोरोना को लेकर लॉकडाउन की घोषणा ठीक है। लेकिन एक महीना उनका धंधा मंदा हो गया। वे बताते हैं कि एक महीने तक समझें लग्न के बाजार पूरी तरह से ठप हो गए हैं। वर-वधु पक्ष वाले बताते हैं कि अब तक विवाह के कार्ड छप गए होते और दुकानें बंद हैं। बताया कि शादी विवाह के घर में आभूषण गहने की खरीदारी करनी थी, पर बंदी में कैसे संभव है।

टेंट व कैटरर आदि नहीं ले रहे एडवांस

जिनके घर शादी है वे बताते हैं कि टेंट, लाइट, फूलवाले, कैटरर, कुक कोई भी अप्रैल में शादी की तैयारी के लिए एडवांस नहीं ले रहे हैं। बारात जाने के लिए कोई वाहन वाले अपनी गाड़ी की बुकिंग करने को तैयार नहीं है। लॉकडाउन से शादी की व्यवस्था जस की तस धरी रह गई है और दुकान नहीं खुलने से और उनकी चिंता साफ देखी जा रही है। शादी विवाह के घर वालों को यह भी है चिंता सता रही है कि कहीं कोरोना के कारण लॉकडाउन की तारीख और न बढ़ जाए।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना