--Advertisement--

10 तोले सोने के उस्तरे से होती है हजामत, इस हेयर ड्रेसर से शेविंग करवाने लाइन में लगते हैं लोग

इस सैलून में लोग हजामत के लिए वेटिंग लिस्ट में नाम लिखवाते हैं।

Danik Bhaskar | May 30, 2018, 05:16 PM IST

खबरें जरा हटके. अबतक आपने राजा महाराजाओं के सोने चांदी के बरतनों के बारे में सुना होगा, लेकिन एक ऐसा हेयर ड्रेसिंग सलून है जहां हजामत के लिए सोने के उस्तरे का इस्तेमाल किया जाता है। पश्चिमी महाराष्ट्र के सांगली शहर में एक ऐसा ही मेन्स पार्लर है जिसका नाम है, उस्तरा मेन्स स्टूडियो। इस सैलून में लोग हजामत के लिए वेटिंग लिस्ट में नाम लिखवाते हैं। 10 तोले का उस्तरा...

इस सलून के मालिक रामचंद्र दत्तात्रेय काशिद ने अपने सैलून में एक अनोखा एक्सपेरिमेंट किया। ये है उनका सोने का उस्तरा। उनका ये उस्तरा 18 कैरट के साढ़े दस तोले सोने का है। इसे पुणे के एक कारीगर ने 20 दिनों की मेहनत के बाद तैयार किया है। इसमें साढ़े तीन लाख रुपए खर्च हुए थे।

तेजी से फेमस हुआ पार्लर

- रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूं तो ये पार्लर पहले से ही काफी चलता था लेकिन लोगों को जब सैलून की इस खासियत का पता चला तो देखते-देखते यहां हुजूम उमड़ने लगा। अपने इस नए प्रयोग पर रामचंद्र काशिद कहते हैं, "मैं कुछ अलग करना चाहता था। कुछ ऐसा जिससे लोग मेरा नाम लें, मेरे पिता का नाम लें।"इसलिए मैंने ये बात सोची कि क्यों ना अपने ग्राहकों को कुछ हटके दिया जाए। शेविंग अगर सोने के उस्तरे से होने वाली हो, तो उत्सुकता बढ़ना तय है है। ग्राहक ही नहीं उनके बच्चे और रिश्तेदार भी इस सोने के रेजर को देखने के लिए आते हैं।

पांच गुना चार्ज

अब यहां लोग रोजाना की हजामत का 200 रुपए दे रहे हैं जो पहले के 40 रुपये से 5 गुना है। यहां तक कि लोग अपनी बारी के लिए वेटिंग लिस्ट में भी नाम लिखवा रहे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक रामचंद्र अपने इस व्यवसाय से 1.5 से 2 लाख रुपए महीना तक कमा लेते हैं।