लाॅकडाउन में सड़कों पर पसरा रहा सन्नाटा, स्क्रीनिंग के लिए सदर अस्पताल में लगी भीड़

Madhubani News - रविवार जनता कर्फ्यू के दिन जहां लोग कर्फ्यू का समर्थन करते अपने घरों में बंद रहे। वहीं, लॉकडाउन के बाद दो दिनों तक...

Mar 27, 2020, 07:30 AM IST
Madhubani News - silence on the streets in lockdown crowds gathered at sadar hospital for screening

रविवार जनता कर्फ्यू के दिन जहां लोग कर्फ्यू का समर्थन करते अपने घरों में बंद रहे। वहीं, लॉकडाउन के बाद दो दिनों तक सड़कों पर आवागमन देखने को मिल रहा था। लेकिन गुरुवार को बाजार क्षेत्र सहित ग्रामीण इलाकों में भी चारो तरफ सन्नाटा छाया रहा। बाजार क्षेत्र में राशन के दुकानों पर इक्का दुक्का लोग नजर आए। ग्रामीण इलाकों में दुकानें प्रायः बंद देखा गया। लोगों की माने तो सभी ने कोरोना महामारी से निजात पाने के लिए घरों में रहकर समय बिताना उचित समझ रहे हैं। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि ग्रामीण इलाकों में जिस चौक पर राशन की आधा दर्जन दुकानें है, उसमें से एक से दो दुकानें मात्र खुली हुई है। लोग अपने जरूरत के सामानों को खरीद कर अपने घरों में बंद है। गांव में जहां सुबह से शाम चहल पहल रहता था। आज पूरे गांव में सन्नाटा छाया हुआ है। कई गांव में ग्रामीण अपने गांव के सड़कों पर स्वयं बैरिकेडिंग किए हुए है। बाहर से आने वाले लोगो पर पाबंदी लगा रखा है। कोरोना महामारी से बचाव को लेकर बीडीओ मनीष कुमार सिंह, सीओ सुमन सहाय, थानाध्यक्ष इंदल यादव द्वारा प्रतिदिन ग्रामीण इलाकों का दौरा किया जा रहा है।

बासोपट्‌टी में किराना की दुकानें भी नहीं खुली

ओपीडी में उमड़ी लोगों की भीड़। लोगों ने मुंह ढ़क रखा है, डिस्टेंस मेंटेन नही कर रहे। इधर, महिला कॉलेज रोड जाने वाली सड़क पूरी तरह सुनसान दिखी।

हेल्थ रिपोर्टर|मधुबनी

लॉकडाउन के चौथे दिन गुरूवार को शहर सुनसान रहा। सड़क पर एंबुलेंस व प्रशासनिक वाहनों के अलावे अन्य किसी भी प्रकार के वाहन नहीं चले। वहीं गिलेशन बाजार में सब्जी व राशन की खरीदारी करते कुछ लोग देखे गए। वहीं, सड़क पर पूरी तरह सन्नाटा छाया रहा। पुलिस भी सड़क पर चल रहे लोगों को घर वापस भेज रही थी व वाहनों के चलने पर रोक लगा रही थी। गुरुवार को भी प्रशासन ने कई अनावश्यक दुकानों को बंद करवाई। वहीं, दूसरी ओर सदर अस्पताल के ओपीडी में कोरोना वायरस से संबंधित सस्पेक्टेड केस के स्क्रीनिंग एवं काउंसलिंग के लिए लोगों की स्क्रीनिंग व काउंसलिंग का सेंटर बनाया गया है। वहां गुरुवार को भी लोग नियम को ताक पर रखकर लाइन में लगे रहे। ओपीडी भवन के बाहर लगभग बीस मीटर लंबी लाइन में लोग खड़े रहे। इस दौरान ना तो स्वास्थ्य प्रशासन इसे हटाने की कोशिश कर रहा था और ना ही ये लोग खुद नियम का पालन कर रहे थे। सुबह से लगभग दोपहर 2 बजे तक काफी संख्या में लोग जांच कराने के लिए आते रहे। मालूम हो कि ओपीडी में काउंसलिंग व स्क्रीनिंग की जा रही है। लोगों ने की व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग इधर भीड़ बढ़ने पर कुछ लोगों ने व्यवस्था को सही करने व दूरी का नियम पालन कराने की भी मांग अस्पताल प्रशासन से की। इन लोगों का कहना था कि अगर लोग ऐसे लाइन में लगेंगे तो संक्रमण का खतरा बढ़ने की संभावना है। क्योंकि कई लोग बाहर से आए हुए यात्री भी हैं। वहीं ओपीडी सहित सदर अस्पताल के विभिन्न वार्डों का सेनेटाइजेशन स्वास्थ्यकर्मी करते रहे। ओपीडी, इमर्जेंसी वार्ड, आइसोलेशन वार्ड सहित सभी जगहों पर स्वास्थ्यकर्मी सेनेटाइजेशन करते रहे।

लोगों को भी करनी चाहिए नियम का पालन

सिविल सर्जन डाॅ. किशोर चंद्र चौधरी ने बताया कि लोगों को कहा गया है कि बेवजह भीड़ ना लगाएं व एक मीटर के फासले को बनाए रखें। स्वास्थ्यकर्मी घर-घर जाकर इन लोगों का फॉलोअप लेंगे। डाॅ. चौधरी ने कहा कि लोगों को यह चाहिए कि सतर्क रहें व बहुत आवश्यक कार्य ना हो तो घर से ना निकलें। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की ओर से हेल्प लाइन नंबर भी जारी कर दिया गया है किसी भी तरह की परेशानी होने पर उस नंबर पर शिकायत की जा सकती है।

बासोपट्‌टी में सूनी पड़ी सड़क।

Madhubani News - silence on the streets in lockdown crowds gathered at sadar hospital for screening
Madhubani News - silence on the streets in lockdown crowds gathered at sadar hospital for screening
X
Madhubani News - silence on the streets in lockdown crowds gathered at sadar hospital for screening
Madhubani News - silence on the streets in lockdown crowds gathered at sadar hospital for screening
Madhubani News - silence on the streets in lockdown crowds gathered at sadar hospital for screening

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना