--Advertisement--

साल में 1-2 बार ही बनता है ये शुभ योग, सोमवार को ये उपाय करने से दूर हो सकता है दुर्भाग्य

सोमवार को पुष्य नक्षत्र होने से सोम पुष्य का शुभ योग बन रहा है। पूरे साल में मात्र 1 या 2 बार ही ऐसा शुभ योग बनता है।

Danik Bhaskar | Apr 21, 2018, 05:00 PM IST

रिलिजन डेस्क. उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, इस बार 23 अप्रैल, सोमवार को पुष्य नक्षत्र होने से सोम पुष्य का शुभ योग बन रहा है। पूरे साल में मात्र 1 या 2 बार ही ऐसा शुभ योग बनता है। इस दिन यदि कुछ खास उपाय किए जाएं तो भगवान शिव प्रसन्न होते हैं साथ ही दुर्भाग्य भी दूर हो सकता है।


क्यों खास है पुष्य नक्षत्र
ज्योतिष शास्त्र में नक्षत्रों का विशेष महत्व है। इन सभी में पुष्य नक्षत्र को बहुत ही शुभ माना जाता है। 27 नक्षत्रों में पुष्य 8 वां नक्षत्र है। इस नक्षत्र का दिशा प्रतिनिधि शनि होने के कारण इसमें किये गए काम चिरस्थायी होते हैं। इस नक्षत्र को मन को उल्लास से भरने वाला व सुख-समृद्धि देने वाला भी माना जाता है। अलग-अलग वार के साथ पुष्य नक्षत्र का योग होने से विभिन्न योग बनते हैं।

सोम-पुष्य योग में करें ये उपाय

मेष राशि
इस राशि वाले पानी में गुड़ मिलाकर भगवान शिव का अभिषेक करें।

वृषभ राशि
दही से भगवान शिव का अभिषेक इस राशि के लोगों के लिए शुभ होता है।

मिथुन राशि
गन्ने के रस से भगवान शिव का अभिषेक करें।

कर्क राशि
इस राशि के शिवभक्त शक्कर मिला हुआ दूध भगवान शिव को चढ़ाएं।

सिंह राशि
लाल चंदन के जल से शिवजी का अभिषेक करें।

कन्या राशि

इस राशि के लोगों को भांग मिश्रित जल से शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए।

तुला राशि
भगवान शिव का गाय के घी में इत्र मिलाकर अभिषेक करें।

वृश्चिक राशि
शहद मिले जल से शिवलिंग का अभिषेक इस राशि वालों के लिए शुभ है।

धनु राशि
इस राशि के लोग दूध में केसर मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक करें।

मकर राशि
तिल्ली के तेल से शिवलिंग का अभिषेक करें।

कुंभ राशि
इस राशि वाले नारियल पानी से शिवलिंग का अभिषेक करें।

मीन राशि
पानी में केसर मिलाकर भगवान शिव का अभिषेक करें।