--Advertisement--

डेब्यू टेस्ट में अर्धशतक लगाने वाले हनुमा विहारी ने कहा- मैच से पहले नर्वस था, द्रविड़ से बात की तो मिली राहत

विहारी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 15 शतक की मदद से 10547 रन बनाए

Danik Bhaskar | Sep 10, 2018, 01:31 PM IST

  • द्रविड़ की कोचिंग वाली भारत ए टीम में थे विहारी
  • डेब्यू के बारे में टेस्ट से एक दिन पहले पता चला

लंदन. इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट में डेब्यू करने वाले हनुमा विहारी ने कहा कि मैदान में उतरने से पहले उन्होंने राहुल द्रविड़ से बात की थी। उन्होंने कहा, 'मैं डेब्यू से पहले नर्वस था। उनसे बात करने के बाद मुझे राहत मिली और अर्धशतक लगा पाया।' विहारी ने पहली पारी में 56 रन बनाए। उन्होंने रवींद्र जडेजा के साथ सातवें विकेट के लिए 77 रन की साझेदारी की।

विहारी ने कहा, "द्रविड़ महान खिलाड़ी हैं। उनसे मिले टिप्स ने काफी मदद की। मेरी बल्लेबाजी में काफी सुधार आया। उन्होंने मुझसे कहा कि तुम्हारे पास काबिलियत, मानसिक दृढ़ता और जज्बा है। मैदान पर जाकर इसका इस्तेमाल करो।" वे द्रविड़ की कोचिंग वाली भारत ए टीम का हिस्सा रह चुके हैं।

एंडरसन-ब्रॉड के सामने नर्वस थे विहारी: इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों को लेकर विहारी ने कहा, "मैं अपनी पहली ही पारी में जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड को खेलने को लेकर बहुत ज्यादा नर्वस था। वे विश्वस्तरीय गेंदबाज हैं। दोनों ने मिलकर 990 टेस्ट विकेट लिए। दूसरे छोर पर विराट के होने से मेरा काम आसान हो गया। उनकी सलाह से मुझे काफी मदद मिली। उन्हें इसका श्रेय देना चाहूंगा।"

डेब्यू की जानकारी सबसे पहले परिजनों को दी: टेस्ट के लिए टीम में शामिल किए जाने को लेकर विहारी ने कहा, "मुझे मैच से एक दिन पहले इसके बारे में बताया गया था। मैंने अपने परिजनों को सबसे पहले इसकी जानकारी दी। मेरा सपना पूरा होने वाला था।"