--Advertisement--

श्रीलंका का गाले स्डेडियम ढहाया जाएगा, दो मंजिले पवेलियन के कारण विरासत कानून का हो रहा उल्लंघन

Dainik Bhaskar

Jul 21, 2018, 12:59 PM IST

सरकार का कहना है कि पवेलियन के कारण 17वीं शताब्दी के 'डच फोर्ट' को नुकसान हो रहा

यूनेस्को का कहना है कि गाले स्टेडियम में बने पवेलियन की वजह से डच फोर्ट को नुकसान हो रहा है। (फाइल) यूनेस्को का कहना है कि गाले स्टेडियम में बने पवेलियन की वजह से डच फोर्ट को नुकसान हो रहा है। (फाइल)

  • गाले शहर कोलंबो से 129 किमी दूर है, यहां के स्टेडियम में 40 टेस्ट और 9 वनडे खेले गए
  • इस मैदान पर आखिरी मैच खेलने वाली टीमें श्रीलंका और इंग्लैंड होंगी

कोलंबो. विश्व विरासत 'डच फोर्ट' को बचाने के लिए क्रिकेट के खूबसूरत मैदानों में शुमार 91 साल पुराने गाले स्टेडियम को नवंबर के बाद गिरा दिया जाएगा। 1927 में इस मैदान को आधिकारिक तौर पर क्रिकेट स्टेडियम घोषित किया गया था। इसके बाद से इस स्टेडियम में 31 टेस्ट और 9 वनडे खेले गए। सांस्कृतिक मामले के मंत्री विजयदासा राजपक्षे ने शुक्रवार को सदन में बताया- "इस स्टेडियम की वजह से इसके पास बने 'डच फोर्ट' को नुकसान पहुंच रहा है। इस वजह से यह फोर्ट यूनेस्को के वर्ल्ड हेरिटेज का दर्जा खो सकता है। इसलिए यह कदम उठाया जा रहा है।" गाले पर आखिरी मैच खेलने वाली टीमें श्रीलंका और इंग्लैंड होंगी। दोनों टीमें नवंबर में सीरीज खेलेंगी।

श्रीलंका के खेल मंत्री फैजर मुस्तफा ने बताया कि यूनेस्को को क्रिकेट मैदान पर आपत्ति नहीं है, लेकिन वह इसके चारों बने तरफ अनधिकृत निर्माण को हटाना चाहता है। इसमें 500 दर्शकों की क्षमता वाला दो मंजिला पवेलियन भी शामिल है। 1996 में अर्जुन रणतुंगा ने सुझाव दिया था कि प्रशासन नियमों का उल्लंघन करने वाले पवेलियन को गिरा दे। जब यहां टेस्ट खेला जाए तो उतने दिनों के लिए एक अस्थायी स्टैंड का निर्माण कर दिया जाए। मौजूदा सरकार में मंत्री रणतुंगा ने कहा, "हमें किले की हेरिटेज स्थिति बनाए रखने और गाले में अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने दोनों की जरूरत है।"

गाले में श्रीलंका की जीत का रेट 75% रहा ​: श्रीलंका टीम ने यहां 31 टेस्ट खेले हैं। इनमें 18 जीते हैं और सिर्फ 6 हारे हैं। वहीं, 9 वनडे खेले गए, जिसमें से श्रीलंका ने 3 जीते, 3 हारे और 3 रद्द हो गए। गाले में पहला मैच जून 1998 में श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था। श्रीलंका ने यह मुकाबला एक पारी और 16 रन से जीता था। दुनिया में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले मुथैया मुरलीधरन ने 2010 में भारत के खिलाफ मैच में अपना 800वां विकेट इसी मैदान पर लिया था। इससे 6 साल पहले ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर शेन वॉर्न ने भी अपना 500वां विकेट गाले में ही लिया था।

पुर्तगालियों ने बनाया था डच फोर्ट: 'डच फोर्ट' के निर्माण की शुरुआत पुर्तगाली उपनिवेशकों ने 1505 में की थी। बाद में 1640 में नीदरलैंड के उपनिवेशकों ने उन्हें खदेड़ दिया और किले पर कब्जा कर लिया। इन्होंने किले के आसपास कई इमारतों का निर्माण कराया। 1796 में इस पर ब्रिटेन ने कब्जा कर लिया, लेकिन उन्होंने चारदीवारी से घिरे गाले शहर की डिजाइन में कोई अहम बदलाव नहीं किया। मौजूदा समय में 'डच फोर्ट' पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है।

डच फोर्ट गाले स्टेडियम से सटा है। डच फोर्ट गाले स्टेडियम से सटा है।
गाले क्रिकेट स्टेडियम में 35,000 दर्शकों के बैठने की व्यवस्था है। (फाइल) गाले क्रिकेट स्टेडियम में 35,000 दर्शकों के बैठने की व्यवस्था है। (फाइल)
X
यूनेस्को का कहना है कि गाले स्टेडियम में बने पवेलियन की वजह से डच फोर्ट को नुकसान हो रहा है। (फाइल)यूनेस्को का कहना है कि गाले स्टेडियम में बने पवेलियन की वजह से डच फोर्ट को नुकसान हो रहा है। (फाइल)
डच फोर्ट गाले स्टेडियम से सटा है।डच फोर्ट गाले स्टेडियम से सटा है।
गाले क्रिकेट स्टेडियम में 35,000 दर्शकों के बैठने की व्यवस्था है। (फाइल)गाले क्रिकेट स्टेडियम में 35,000 दर्शकों के बैठने की व्यवस्था है। (फाइल)
Astrology

Recommended

Click to listen..