लॉकडाउन के आदेश तक स्टडी भी घर पर करें, यूजीसी की वेबसाइट का करें उपयोग

Darbhanga News - एलएनएमयू के कुलपति प्रो. राजेश सिंह ने गुरुवार को आवासीय कार्यालय पर कुछ पदाधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना...

Mar 27, 2020, 06:51 AM IST
Darbhanga News - study up to lockdown order at home use ugc website

एलएनएमयू के कुलपति प्रो. राजेश सिंह ने गुरुवार को आवासीय कार्यालय पर कुछ पदाधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना वायरस एवं लॉकडाउन के मद्देनजर आवश्यक निर्देश दिए। डीएसडब्ल्यू प्रो. रतन कुमार चौधरी ने बताया कि कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए देश भर में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे में वीसी ने छात्रों के लिए संदेश दिया है कि वर्क फ्राॅम होम की तरह स्टडी फ्राॅम होम कर सकते हैं।

लेकिन, बहुत सारे स्टूडेंट्स के सामने समस्या यह है कि आखिर वो क्या पढ़ें जो उनके कोर्स और सिलेबस का हो। उन्होंने बताया कि इस बात को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने इंफॉरमेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी (आईसीटी) का प्रयोग कर ऑडियो-वीडियो और टेक्स्ट कंटेंट हासिल करने के लिए कई लिंक बताए हैं। शिक्षकों के लिए भी पोर्टल पर रिसर्च जर्नल पढ़ने की सुविधा दी गई है। वहीं स्टूडेंट्स को ऑनलाइन नए कोर्स में प्रवेश लेने की सुविधा दी गई है।

स्वयं डॉट जीअाेवी डॉट इन पर जाकर छात्र और शिक्षक कर सकते हैं पढ़ाई

डब्ल्यूडब्ल्यू डॉट स्वयं डॉट जीअाेवी डॉट इन पर यूजी-पीजी स्तर पर विभिन्न प्रोग्राम की पढ़ाई कर सकते हैं। इस पोर्टल पर स्कूल एजुकेशन, आउट ऑफ स्कूल एजुकेशन, अंडर ग्रेजुएट एजुकेशन और पोस्ट ग्रेजुएट श्रेणी में कोर्स उपलब्ध हैं। यूजी-पीजी के साइट पर छात्र पीजी के 86 और यूजी के 222 कोर्स की ऑनलाइन स्टडी कर सकते हैं। ई पीजी पाठशाला की वेबसाइट पर स्टूडेंट पीजी स्तर पर 40 डिसिप्लिन में 23 हजार से अधिक मॉड्यूल के जरिए पढ़ाई जारी रख सकते हैं. यहां 20 हजार से अधिक ई-टेक्स्ट और 19 हजार से अधिक वीडियो कंटेंट उपलब्ध हैं। ई कंटेंट कोर्स वेयर फॉर यूजी की वेबसाइट पर 87 यूजी कोर्स का ई-कंटेंट यहां हासिल कर सकते हैं. वेबसाइट पर 24110 ई-कंटेंट मॉड्यूल उपलब्ध है। वहीं स्वयंप्रभा की वेबसाइट पर 32 डीटीएच चैनल के जरिए यूजी-पीजी स्तर के सभी डिसिप्लिन में पढ़ाई कराई जा रही है। सीईसी-यूजीसी यू-ट्यूब चैनल से आप यू-ट्यूब के जरिए अपनी पढ़ाई कर सकते हैं। जबकि, नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी की वेबसाइट के जरिए स्टूडेंट सभी भाषाओं में देशभर के लाइब्रेरी में उपलब्ध कंटेंट को ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। शोध गंगा की वेबसाइट पर दो लाख 60 हजार से अधिक ई-थीसिस मौजूद है। जिनकी शोधार्थी रिसर्च के दौरान मदद ले सकते हैं। इसके साथ ही ई-शोध सिंधु की वेबसाइट पर 15 हजार से अधिक कोर जर्नल और पियर रिव्यू जर्नल मौजूद हैं. रिसर्च स्कॉलर के साथ शिक्षक भी इस वेबसाइट का लाभ उठा सकते हैं। विद्वान नामक वेबसाइट फैकल्टी के लिए है। इस वेबसाइट पर 49,652 विशेषज्ञ, 5786 ऑर्गेनाइजेशन और 755195 साइटेशन मौजूद हैं। छात्रों से वीसी ने अपील की है कि घर पर समय व्यर्थ न गवाएं। बल्कि, इन लिंक पर जाकर पढ़ाई करें। इससे समय पर परीक्षा लेने एवं सत्र नियमित करने में मदद मिलेगी।

शिक्षकों को ऑनलाइन कंटेंट उपलब्ध कराने का दिया निर्देश

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के सचिव प्रो. रजनीश जैन के पत्र का हवाला देते हुए प्रो. सिंह ने कहा कि यूजीसी ने शिक्षक और छात्रों को इस संबंध में पत्र जारी किया है। पत्र में महत्वपूर्ण लिंक का उल्लेख किया गया है। जिसमें यूजी और पीजी स्तर पर जारी समस्त विषयों से लेकर रिसर्च के लिए कंटेंट मौजूद हैं। कॉलेज और शिक्षकों को ऑनलाइन कंटेंट उपलब्ध कराने का आदेश दिया है। जिससे कि परीक्षाएं निर्धारित समय पर कराई जा सके। उन्होंने कहा कि कॉलेज एवं स्नातकोत्तर विभागों के शिक्षकों को ‌स्टडी मैटीरियल कॉलेज एवं विश्वविद्यालय वेबसाइट पर‌ अपलोड करने को कहा गया है। परन्तु, अभी इसकी गति उत्साहजनक नहीं है। इसे व्यवहार में लाने पर धीरे- धीरे परिणाम अच्छे आएंगे। इसके अतिरिक्त यूजीसी ने कुछ लिंक छात्रों एवं शिक्षकों के लिए उपलब्ध कराया है। उससे छात्र घर बैठे आसानी से परीक्षा की तैयारी भी कर‌ सकते हैं। छात्र एवं शिक्षक इन वेब लिंक में जाकर अपने सिलेबस के अनुसार पूरा कंटेंट पा सकते हैं।

X
Darbhanga News - study up to lockdown order at home use ugc website

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना