Hindi News »Business» TCS Q1 Result: TCS Net Profit Jumps By 23.4% And Revenue By 15.8%

टीसीएस: पहली तिमाही में मुनाफा 7340 करोड़ रुपए, सालाना आधार पर 23% ज्यादा; आय 16% बढ़कर 34261 करोड़

पिछले साल की अप्रैल-जून तिमाही में मुनाफा 5,945 करोड़ और आय 29,584 करोड़ रुपए रही थी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 10, 2018, 06:28 PM IST

टीसीएस: पहली तिमाही में मुनाफा 7340 करोड़ रुपए, सालाना आधार पर 23% ज्यादा; आय 16% बढ़कर 34261 करोड़

- शेयरधारकों को 4 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड का ऐलान

- टीसीएस देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी है

- टाटा ग्रुप का ज्यादातर मुनाफा टीसीएस से आता है

मुंबई. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) का मुनाफा चालू वित्त वर्ष (2018-19) की पहली तिमाही में 7,340 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी की आय 34,261 करोड़ रुपए रही है। सालाना आधार पर मुनाफे में 23.4% और आय में 15.8% बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल की अप्रैल-जून तिमाही में मुनाफा 5,945 करोड़ और आय 29,584 करोड़ रुपए रही थी। टीसीएस ने 4 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड का ऐलान किया है। कंपनी के सीईओ और एमडी राजेश गोपीनाथन ने कहा कि हमने नए वित्त वर्ष की अच्छी शुरुआत करते हुए हमने सभी सेक्टर में ग्रोथ दर्ज की है। बैंकिंग वर्टिकल में काफी सुधार हुआ है।

पिछली तिमाही (जनवरी-मार्च) में कंपनी का मुनाफा 6,904 करोड़ रुपए और आय 32,075 करोड़ रुपए रही थी।

पिछले तिमाही नतीजों के बाद शेयर में तेजी आई : टीसीएस ने पिछली बार 19 अप्रैल (गुरुवार) को नतीजों का ऐलान किया था। नतीजों के बाद अगले दो कारोबारी दिनों में इसके शेयर में तेजी आई और 23 अप्रैल (सोमवार) को कंपनी का मार्केट कैप 100 अरब डॉलर (6.60 लाख करोड़ रुपए) पहुंच गई। टीसीएस ये मुकाम हासिल करने वाली देश की पहली आईटी कंपनी बनी। हालांकि ऊपरी स्तरों से बिकवाली की वजह से शेयर बाजार बंद होने पर इसका मार्केट कैप 100 अरब डॉलर से नीचे रही। कंपनी का मौजूदा मार्केट वैल्युएशन 7.24 लाख करोड़ रुपए है।

2018 में निवेशकों को 40% रिटर्न:टीसीएस का शेयर 2018 में अब तक निवेशकों को करीब 40% रिटर्न दे चुका है। 29 दिसंबर 2017 को शेयर प्राइस 1,350.2 था जो अब 1,877 रुपए पहुंच गया है। एक्सपोर्ट से जुड़ा कारोबार होने की वजह से टीसीएस को रुपए में गिरावट का फायदा हुआ है। सेंसेक्स में शामिल कंपनियों की तुलना में इसके शेयर का प्रदर्शन इस साल सबसे अच्छा रहा है। टीसीएस सात लाख करोड़ से ज्यादा मार्केट वैल्यू वाली देश की एकमात्र कंपनी है। इसमें 3.9% शेयर के साथ एलआईसी सबसे बड़ी निवेशक है। फर्स्ट स्टेट इन्वेस्टमेंट 0.8% के साथ दूसरा बड़ा शेयरहोल्डर है। एसबीआई म्यूचुअल फंड की 0.4% हिस्सेदारी है।

टीसीएस के 10 बड़े शेयरहोल्डर

शेयरधारकहिस्सेदारीकुल शेयर
एलआईसी3.9%7.54 करोड़
फर्स्ट स्टेट इन्वेस्टमेंट0.8%1.50 करोड़
लजार्डो इमर्जिंग मार्केट्स इक्विटी0.5%98.19 लाख
ओपेनहाइमर डवलपिंग मार्केट फंड0.4%79.96 लाख
एचडीएफसी ट्रस्टी कंपनी लिमिटेड0.4%76.45 लाख
वेनगार्ड इमर्जिंग मार्केट्स स्टॉक इंडेक्स फंड0.4%75.95 लाख
एसबीआई म्यूचुअल फंड0.4%70.57 लाख
गवर्नमेंट ऑफ सिंगापुर0.3%64.98 लाख
अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी0.3%62.96 लाख
वेनगार्ड टोटल इंटरनेशनल स्टॉक इंडेक्स फंड0.3%61.79 लाख

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Business

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×