टीचर्स स्कूल में जाने का करते रहे इंतजार, 6 घंटे चला ड्रामा

Panchkula Bhaskar News - सेक्टर-1 जैनेंद्र ग्रुरूकुल मामले में शनिवार को प्रिंसिपल समेत कुछ टीचर्स डीसी से मिले। डीसी ने प्रिंसिपल समेत...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:30 AM IST
Panchkula News - teachers wait to go to school drama played for 6 hours
सेक्टर-1 जैनेंद्र ग्रुरूकुल मामले में शनिवार को प्रिंसिपल समेत कुछ टीचर्स डीसी से मिले। डीसी ने प्रिंसिपल समेत सभी टीचर्स को आश्वासन देते हुए कहा कि वह स्कूल में नहीं रूकें बल्कि अपने घर जाएं। सोमवार से वह सामान्य दिनों की तरह अपना क्लास लगाएं और काम करें। वह पहले मैनेजमेंट कमेटी के सभी सदस्यों को बुलाकर उनसे मिलेंगे और उसके बाद कमेटी की ओर से आगे का कोई फैसला लिया जाएगा। जिसके बाद स्कूल के टीचर्स वापिस अपने घर गए। इससे पहले शुक्रवार को की रात स्कूल में ही रूके टीचर्स को प्रशासन के कहने पर पुलिस की ओर से सुबह 6 बजे स्कूल से बाहर निकाला गया। टीचर्स जब सुबह 8 बजे स्कूल ज्वाइन करने पहुंची तो उन्हें स्कूल में छुट्‌टी होने की बात कह स्कूल कैंपस में जाने से मना कर दिया गया। जिसके बाद प्रिंसिपल समेत कुछ टीचर्स ने मिलकर स्कूल के बैक एंट्री से स्कूल में प्रवेश किया। जिसके बाद मौके पर पुलिस की टीम और ड्यूटी मजिस्ट्रेट पहुंची और प्रिंसिपल समेत दो टीचर्स को डीसी से के पास ले गए। जहां डीसी के आश्वासन देने के बाद सभी टीचर्स वापिस चले गए। आपको बता दें कि शनिवार को सैकेड शनिवार होने की वजह से स्कूल सस्पेंड था लेकिन स्टाफ का ऑफिस बाकी शनिवार की तरह लगता है। स्कूल के हालात को देखते हुए स्कूल के स्टाफ की भी छुट्‌टी कर दी गई । शाम के समय भी स्कूल के भीतर व बाहर पुलिसकर्मी तैनात थे। प्रिंसिपल पूनम ठाकुर ने अपने पद को लेकर कोर्ट में याचिका भी लगा दी है।

गलत ज्वाइनिंग दी हुई है कमेटी के सेक्रेटरी ने: जैनेंद्र पब्लिक स्कूल के मैनेजमेंट कमेटी के प्रदान अरिदमन जैन के बेटे तरूम जैन ने बताया कि मैं कमेटी का मेंबर हूं। मुझे मेरे पिता के निर्देश मिला है और उनके साइन्ड टर्मिनेशन लेटर को मैने जारी किया था। डीसी के कहने के बाद मैने उसे विद्ड्रॉ कर लिया। विद्ड्रॉ लेटर पर मैने अपने पिता के बिहाफ पर साइन किया है क्योंकि उन्होंने मुझे पावर ऑफ अटॉर्नी दी हुई है। जैन ने बताया कि प्रिंसिपल पूनम ठाकुर की बतौर प्रिंंसिपल प्रमोशन गलत हुई है। सेक्रेटरी के पास पावर ही नहीं है वाइस प्रिंसिपल से प्रिंसिपल को प्रमोट करने की। सिर्फ कमेटी के प्रधान को पावर है किसी को रखने व निकालने की और यह गुरूकुल के संविधान में अंकित है।


X
Panchkula News - teachers wait to go to school drama played for 6 hours
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना