• Hindi News
  • Bihar
  • Bihar Sharif
  • Harnaut News the family members who are hiding from outside hiding in the house do not hide this time show them to the doctor soon

बाहर से लौटे लोगों को घर में छिपाकर रख रहे परिजन यह समय छिपने का नहीं, उन्हें जल्द डॉक्टर से दिखाएं

Bihar Sharif News - प्रखंड में अब तक 119 संदिग्धों की स्क्रीनिंग की गई है। सभी के शुरुआती लक्षण निगेटिव मिले हैं। हालांकि फिर भी...

Mar 27, 2020, 07:10 AM IST
Harnaut News - the family members who are hiding from outside hiding in the house do not hide this time show them to the doctor soon

प्रखंड में अब तक 119 संदिग्धों की स्क्रीनिंग की गई है। सभी के शुरुआती लक्षण निगेटिव मिले हैं। हालांकि फिर भी उन्हें कुछ दिनों तक स्वास्थ्य विभाग की मॉनिटरिंग में परिवार के बाकी सदस्यों से अलग रहने को कहा गया है। प्रभारी डाक्टर राजीव रंजन सिन्हा ने बताया कि कई गांवों से परिवार के लोगों के द्वारा ही बाहर से लौटे सदस्यों को घर में छिपाने की सूचना मिली है। जबकि, कुछ लोग इधर-उधर भागते फिर रहे हैं। यह समय भागने अथवा छिपने-छिपाने का नहीं है। मामूली जांच प्रक्रिया के बाद उन्हें देखरेख में रखा जाता है। अभी तक कहीं से पॉजीटिव केस नहीं मिले हैं। कहीं मिले भी हैं तो बेहतर देखरेख से संक्रमण पर काबू पाने की सूचना मिली है और वे परिवार के साथ हैं। स्वास्थ्य प्रशिक्षक जयराम सिंह ने लॉक डाउन का पालन करने की सलाह दी। कहा कि घर से निकलें भी तो प्रयास यह हो कि शरीर का अधिक से अधिक हिस्सा कपड़ों से ढंका हो। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस का आकार अति सूक्ष्म है। खखार जैसी आकृति का यह विषाणु आपके रोम छिद्र से प्रवेश करके आपको संक्रमित कर सकता है।

किसान व मजदूरों की स्थिति और चिंताजनक


किसान व मजदूरों की स्थिति और चिंताजनक है। पहले प्रकृति की मार से मसूर की फसल बर्बाद हो गई। फिर पटाने के बाद हुई बारिश ने गेहूं की फसल का कबाड़ा कर दिया। नालंदा व पटना जिला के सरमेरा टाल से सबनीमा होते बराह-सिरसी टाल तक मसूर उत्पादन के लिये राज्य भर में चर्चित है। औसतन 12 से 14 मन प्रति बीघा उपज की जगह दो से चार मन बमुश्किल जा रहा है। गेहूं में भी 50 फीसदी तक नुकसान है। कोरोना वायरस के प्रकोप से शेष के भी घर पहुंचने पर प्रश्न चिन्ह लग गया है। खासकर किसान- मजदूर वर्ग के लिये पहले राहत की व्यवस्था की जाती। उनके समक्ष रोजी-रोटी के लाले पड़ने लगे हैं।


निर्धारित दर से कम पर लिया जा रहा दूध : मोबारकपुर के त्रिवेणी सिंह ने बताया कि लॉक डाउन को देखते हुए लोग इसका गलत फायदा उठाने से भी नहीं चूक रहे हैं। कई गांवों में दूध संग्रहण केंद्र में दूध की निर्धारित दर से कम राशि पर दूध लिया जा रहा है। इससे पशुपालकों में बेचारगी की स्थिति है।


जल्द हो ठहराव की व्यवस्था

गोनावां पंचायत के पूर्व मुखिया राजीव रंजन सिन्हा ने बताया कि बाहर से लौटने वालों के लिये चेक प्वाइंट बनाने व उनके ठहराव के लिये स्कूल व सरकारी भवन में व्यवस्था की बात अभी तक कागजों पर ही है। इसे धरातल पर उतारने की मांग की।कहा कि इसी वजह से बाहर से लौटने वाले सीधे घर में जा रहे हैं।

युवाओं की टोली कर रही जागरूक : हरनौत बाजार के नीरज, गौतम, राजेश, तरुण, गुड्डू, जितेंद्र, त्रिवेणी व मुधीर ने जागरूक युवाओं की टोली बनाई है। युवकों ने बताया कि आपस में निर्धारित दूरी बनाकर रखते हैं। लोगों में कोरोना वायरस को लेकर बढ़ते अफवाह व भ्रमों को दूर कर रहे हैं। यही नहीं, दूसरे प्रदेशों से लौटने वाले लोगों के परिवारों के साथ समन्वय बनाकर उन्हें जांच के लिये अस्पताल तक लाने में मदद करते हैं। जहां पुलिस-प्रशासन के मदद की जरूरत होती है, वहां पर वे उनकी मदद भी लेते हैं। इन्हीं की जानकारी पर पंचशील नगर में किराये के मकान में रहने वाले युवक को जांच के लिये लाया गया। वह मुंबई से आने के बाद से कमरे में बंद था।



घर से निकलें भी तो प्रयास हो कि शरीर के अधिक से अधिक हिस्से पर कपड़ा हो

Harnaut News - the family members who are hiding from outside hiding in the house do not hide this time show them to the doctor soon
X
Harnaut News - the family members who are hiding from outside hiding in the house do not hide this time show them to the doctor soon
Harnaut News - the family members who are hiding from outside hiding in the house do not hide this time show them to the doctor soon

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना