डीसी ने ट्रैफिक व्यवस्था के लिए जो उपाय दिए, उन पर ही नहीं हुआ काम

Mohali Bhaskar News - शहर के ब्लैक स्पॉट्स (दुर्घटनाग्रस्त स्थान) और ट्रैफिक व्यवस्था की हकीकत जानने के लिए 8 जुलाई डीसी गरीश दयालन ने को...

Nov 07, 2019, 07:31 AM IST
Mohali News - the measures provided by dc for the traffic system did not work on them
शहर के ब्लैक स्पॉट्स (दुर्घटनाग्रस्त स्थान) और ट्रैफिक व्यवस्था की हकीकत जानने के लिए 8 जुलाई डीसी गरीश दयालन ने को मोहाली से लेकर डेराबस्सी तक का खुद कार ड्राइव करके गए थे, ताकि ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारा जा सके। उनका फोकस शहर पर भी था। चार महीने गुजर जाने के बाद जो कुछ उपाय किए गए थे, वे वो कुछ दिन भी नहीं चल पाए हैं।

दैनिक भास्कर की ओर से उसी दिन खबर प्रकाशित कर उन दिनों में नवनियुक्त हुए डीसी गरीश दयालन को बताया था कि जो अधिकारी उनके साथ दौरे पर हैं, वे सब जानते हैं कि कहां पर क्या ठीक करना है। अगर वे संजीदगी से काम करें तो सब कुछ ठीक हो जाएगा। डीसी के निर्देशों पर शहर के फेज-5 के बूथों पर मार्केट की ओर जाने वाले रोड, फेज-5 मार्केट, फेज-3बी2 से कोठियों को जाने वाले मार्ग, फेज-3बी2 की मार्केट से बैक साइड को जाने वाले मार्ग को बंद करने, फेज-7 मोटर मेकैनिक मार्केट से कोठियों से जाने वाले मार्ग, फेज-7 फुटओवर ब्रिज से संत इशर सिंह स्कूल की ओर जाने वाले मार्ग पर कुछ जगह प्लास्टिक के डिवाइडर लगाए गए थे। फेज-5 की मार्केट व रोड को छोड़ कर शेष सभी डिवाइडर सौ दिन भी पूरा नहीं कर पाए हैं। फेज-3बी2 की मार्केट से तो यह डिवाइडर तोड़कर ही रास्ता साफ कर दिया गया है। बाकी जगह भी इन डिवाइडर्स की हालत खस्ता ही है। कहीं डिवाइडर का एक पोल ही दिख रहा है तो कहीं दो ही बचे हैं। अगर अधिकारी अभी भी संजीदगी से काम करें तो ट्रैफिक समस्या का हल हो सकता है। पीटीएल चौक फेज-5 से फेज-11 तक का जीरो टोलरेंस रोड के तौर पर विकसित करने के लिए कहा गया था, वह भी अभी तक अधर में ही लटका हुआ है। पीटीएल से लेकर फेज-11 तक के मार्ग को जीरो टाॅलरेंस रोड बनाने के लिए कहा गया। इस मार्ग पर ट्रैफिक नियमों का जो भी उल्लंघन करता है, उस पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। भले ही उसकी गाड़ी रॉन्ग पार्किंग में क्यों न पार्क हो, लेकिन इसपर भी काम नहीं हुआ है। सिर्फ टो अवे जोन नो पार्किंग के बोर्ड लगे हैं। ओवरलोडेड ऑटो अभी भी घूमते दिखाई देते हैं। निगम के एसई अश्वनी चौधरी ने कहा कि वे नए आए हैं, डीसी के कहने पर जो काम होने थे, वे जल्द पूरे कर दिए जाएंगे।




डीसी ने एयरपोर्ट रोड पर जाकर गुरुद्वार सिंह शहीदां चौराहा, आइसर टी प्वाइंट, एयरपोर्ट टर्मिनल रोड तथा छत चौराहे पर भी ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर विचार किया गया था। कहा कि सड़क जहां से भी टूटी है, उसे तुरंत ठीक किया जाए। एयरपोर्ट पर बाहर से आने वाले लोग आते हैं, इसलिए इस रोड को सुंदर बनाया जाए। एलईडी लाइट्स एंड सूचना बोर्ड लगाए गए। रात को दिखने वाले साइन बोर्ड की लगाए। आलम यह है कि इस समय भी एयरपोर्ट रोड पर पुराने साइन बोर्ड ही लगे हैं, नया साइन बोर्ड नहीं लगा है। जो पुराने साइन बोर्ड भी लगे हैं उनके पोल्स को जंग खा गया है। डीसी ने जो रोड पर अच्छे व फूलों वाले पौधे लगाए जाए। वेलकम साइन भी लगाए जाए। पूरे मार्ग को ऐसा सुंदर बनाया जाए जो यहां से गुजरने वाले लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने के निर्देश दिए थे, उनका भी चार महीने तक कोई काम नहीं हुआ। अब पंजाब प्रोग्रेसिव मीट जो की 5 और 6 दिसंबर को आईएसबी में होनी है उसको लेकर पिछले सप्ताह से गमाडा ने पौधे लगाने का काम शुरू किया है। मेनटेनेंस ना होने के चलते बाद में यह पौधे सुख जाते हैं, जो सूखे पौधे अब भी एयरपोर्ट रोड पर दिखाई देते हैं।

X
Mohali News - the measures provided by dc for the traffic system did not work on them
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना