अब नए यूजर नहीं बना पाएंगे TikTok वीडियो, हाई कोर्ट के फैसले के बाद गूगल ने बैन किया ये ऐप; देश में अभी 24 करोड़ यूजर्स कर रहे यूज

प्ले स्टोर से गूगल ने हटा ऐप, लेकिन Apk फाइल डाउनलोड करके हो रहा इन्स्टॉल

Apr 17, 2019, 11:32 AM IST

गैजेट डेस्क। मद्रास हाई कोर्ट ने 3 अप्रैल, 2019 को टिकटॉक (TikTok) ऐप को बैन करने का आदेश दिया था। ऐसे में अब गूगल ने प्ले स्टोर से इस ऐप को हटा दिया है। कोर्ट का कहना था कि ये ऐप पॉर्नोग्राफी को बढ़ावा दे रहा है और बच्चों को हिंसक बना रहा है। हालांकि, कोर्ट के इस फैसले को टिकटॉक की ऑनर कंपनी Bytedance Technology ने मानने से मना कर दिया था। बता दें कि देश में इस ऐप को 24 करोड़ से ज्यादा यूजर्स यूज कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र ने हाई कोर्ट के आदेश का पालन करने के लिए Apple और Google को एक लेटर भेजा था। सरकार ने इन दोनों को मद्रास हाई कोर्ट के उस आदेश का पालन करने को कहा था जिसमें टिकटॉक ऐप पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई थी। इंडिया में इस ऐप को 240 मिलियन बार डाउनलोड किया गया है। वहीं, जनवरी 2019 में इसे 30 मिलियन यानी 3 करोड़ से ज्यादा बार इन्स्टॉल किया गया था।

क्या है टिकटॉक ऐप?

टिकटॉक पर शॉर्ट और फनी क्लिप बनाई जाती है। फिर इसे इसी प्लेटफॉर्म के साथ दूसरे सोशल प्लेटफॉर्म पर भी शेयर किया जा सकता है। ऐप की खास बात है कि क्लिप स्पेशल इफेक्ट्स के साथ होती है, जो देखने में मजेदार होती है। इसमें फिल्म या किसी शो के डायलॉग और सॉन्ग की डबिंग का ऑप्शन रहता है। हालांकि, कोर्ट ने मीडिया को भी इस ऐप से बने वीडियो का टेलिकास्ट नहीं करने का आदेश दिया है।

गूगल पर बैन, लेकिन Apk का क्या?

गूगल ने TikTok ऐप को बैन कर दिया है। साथ ही, TikTok Pte. Ltd. की कोई भी कंटेंट अब प्ले स्टोर पर नहीं दिख रहा है। हालांकि, यूजर्स के पास Apk फाइल का ऑप्शन अभी भी मौजूद है। कई वेबसाइट पर ये ऐप Apk फॉर्मेट में मौजूद है, जहां से इसे डाउनलोड करके इसे फोन में इन्स्टॉल किया जा सकता है। हालांकि, Apk फाइल को फोन में इनस्टॉल करने की परमिशन गूगल नहीं देता है। ऐसे में यदि फोन में कोई खराबी आती है तब ये रिस्क भी यूजर की रहेगी। साथ ही, जिन फोन में ऐप पहले से मौजूद है वो इसका यूज कर पाएंगे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना