--Advertisement--

1, 3 या 5 की संख्या में न रखें गणेशजी की मूर्ति, घर में मंदिर में ध्यान रखें ऐसी ही 10 बातें

पूजा-पाठ करते समय छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखा जाए तो भगवान की प्रसन्नता जल्दी मिल सकती है।

Danik Bhaskar | Jun 23, 2018, 07:41 PM IST

रिलिजन डेस्क। घर में मंदिर और देवी-देवताओं की मूर्तियां रखने की परंपरा पुराने समय से चली आ रही है। जिन घरों में भगवान की प्रतिमाएं होती हैं, वहां सकारात्मकता बनी रहती है और सुख-समृद्धि का वास होता है। उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसार शास्त्रों में मंदिर के लिए कई नियम बताए गए हैं। जानिए घर के मंदिर से जुड़े कुछ खास नियम...

1. घर में सकारात्मकता बढ़ाने के लिए गणेशजी की मूर्ति की संख्या सम होनी चाहिए यानी 2, 4, 6. ध्यान गणेशजी की मूर्तियों की संख्या विषम यानी 1, 3 या 5 नहीं होनी चाहिए। विषम संख्या में गणेश मूर्ति रखने से पूजा का पूरा फल नहीं मिलता है।

2. घर के मंदिर में एक ही शंख रखना चाहिए, लेकिन ध्यान रखें शिवलिंग पर शंख से जल नहीं चढ़ाना चाहिए।

3. मंदिर में छोटा सा शिवलिंग रखना चाहिए। घर में बहुत बड़ा शिवलिंग शुभ नहीं माना जाता है। घर के मंदिर में अंगूठे से बड़ा शिवलिंग रखने से बचें।

4. मंदिर में कभी भी खंडित मूर्तियां न रखें। खंडित मूर्तियों की पूजा करने से मनोकामनाएं अधूरी रह सकती हैं। ऐसी मूर्तियों की पूजा सफल नहीं हो पाती है। ध्यान रखें सिर्फ शिवलिंग किसी अवस्था में खंडित नहीं माना जाता है।

5. घर के मंदिर में सुबह-शाम दीपक जरूर जलाएं। ध्यान रखें पूजा करते समय ऐसी व्यवस्था करें कि दीपक पूजा के बीच में न बुझे।

6. मंदिर के आसपास चमड़े से बनी चीजें जैसे जूते-चप्पल, बेल्ट न रखें। भगवान की मूर्तियों के आसपास गंदगी नहीं होनी चाहिए।

7. ध्यान रखें मंदिर में भगवान के साथ मृत लोगों की फोटो नहीं रखनी चाहिए। मृत लोगों के फोटो दक्षिण दिशा की दीवार पर लगा सकते हैं। मंदिर में ऐसी फोटो रखने से बचें।

8. भगवान को जब भी फूल-पत्तियां चढ़ाएं, उन्हें साफ पानी से धो लेना चाहिए।

9. मंदिर के ऊपर का स्थान हमेशा खाली रखना चाहिए। इसीलिए मंदिर के ऊपर गुंबद बनाए जाते हैं। ताकि मंदिर पर कोई सामान न रख सके।

10. मंदिर के आसपास रात में अंधेरा नहीं रखना चाहिए। मंदिर के पास रात में छोटा बल्ब जला सकते हैं।

Related Stories