--Advertisement--

बिजनेस ब्रीफ: केनरा बैंक की लंदन ब्रांच पर 8 करोड़ का जुर्माना, 5 महीने के लिए डिपॉजिट पर रोक

Dainik Bhaskar

Jun 07, 2018, 12:02 PM IST

मनी लॉन्ड्रिंग नियमों का पालन नहीं करने पर लगा फाइन

UK regulator slaps Rs 8 crore fine on London branch of Canara Bank
नई दिल्ली. केनरा बैंक की लंदन ब्रांच पर यूके फाइनेंशियल सेक्टर रेग्युलेटर एफसीए ने 8,96,100 पाउंड (करीब 8 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया है। 5 महीने के लिए नए ग्राहकों से डिपॉजिट लेने पर भी रोक लगा दी है। एंटी मनी लॉन्ड्रिंग नियमों की पालना नहीं करने पर ये कार्रवाई की गई है। नवंबर 2012 से जनवरी 2016 के बीच का ये मामला है। केनरा बैंक ने बीएसई फाइलिंग में जानकारी दी है कि एफसीए ने माना है कि बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों ने जांच में पूरी मदद की। केनरा बैंक जांच जल्द पूरी करने के एग्रीमेंट के लिए तैयार हो गया। इसकी वजह से एससीए ने फाइन 30% घटा दिया नहीं तो जुर्माना राशि 11 करोड़ से ज्यादा और डिपॉजिट पर 7 महीने की रोक लग सकती थी।
बिजनेस ब्रीफ: आरबीआई बनाएगा पब्लिक क्रेडिट रजिस्ट्री
लोन डिफॉल्ट की पूरी जानकारी रखने के लिए आरबीआई, पब्लिक क्रेडिट रजिस्ट्री (पीसीआर) बनाएगा। आरबीआई ने इस संबंध में यशवंत एम देओस्थली की अध्यक्षता वाली टास्क फोर्स समिति की सिफारिशों को मंजूरी दे दी है। इसके तहत वित्तीय स्थिरता के लिए सभी तरह के लोन की जानकारियां रखी जाएंगी। आरबीआई का कहना है कि इकोनॉमी में क्रेडिट कल्चर को मजबूत करने के लिए पीसीआर की जरूरत है। बैंकों और दूसरे वित्तीय संस्थानों के लोन संबंधी सूचनाएं एक साथ उपलब्ध नहीं हो पाती। ऐसे में ये पता लगाना मुश्किल होता है कि एक व्यक्ति पर कितना लोन है। पब्लिक क्रेडिट रजिस्ट्री बनने के बाद सभी सूचनाएं एक जगह उपलब्ध हो सकेंगी।

X
UK regulator slaps Rs 8 crore fine on London branch of Canara Bank
Astrology

Recommended

Click to listen..