• Dharm
  • Upasana
  • ups_worship lord brihaspati by follow this rules for be lucky and happy

गुरुवार को इन बातों का ध्यान रख करें गुरु पूजा, तो किस्मत न देगी दगा / गुरुवार को इन बातों का ध्यान रख करें गुरु पूजा, तो किस्मत न देगी दगा

गुरुवार को इन बातों का ध्यान रख अगर गुरु पूजा करें, तो मनचाहे सुख-सौभाग्य व सफलता पाना आसान हो..

धर्म डेस्क. उज्जैन

Feb 01, 2012, 01:06 PM IST
ups_worship lord brihaspati by follow this rules for be lucky and happy

शास्त्रों के मुताबिक बृहस्पति की उपासना ज्ञान, सौभाग्य व सुख देने वाली मानी गई है। दरअसल, गुरु ज्ञान व विद्या के रास्ते तन, मन व भौतिक दु:खों से मुक्त जीवन जीने की राह बताते हैं। जिस पर चल कोई भी इंसान मनचाहे सुखों को पा सकता है।
हिन्दू धर्म शास्त्रों में कामना विशेष को पूरा करने के लिए खास दिनों पर की जाने वाली गुरु पूजा की परंपरा में गुरुवार को भी देवगुरु बृहस्पति की पूजा का महत्व बताया गया है। ऐसी पूजा के शुभ, सौभाग्य व मनचाहे फल के लिए गुरुवार व्रत व पूजा के कुछ नियमों को पालन जरूरी बताया गया है।
जानिए सौभाग्य, पारिवारिक सुख-शांति, कार्य कुशलता, मान-सम्मान, विवाह, दाम्पत्य सुख व दरिद्रता को दूर करने की कामना से गुरुवार व्रत व पूजा में किन बातों का ख्याल रखें -
- गुरुवार व्रत किसी माह के शुक्ल पक्ष में गुरुवार व अनुराधा के योग से शुरू करना चाहिए।
- 1, 3, 5, 7, 9, 11 या 1 से 3 वर्ष या ताउम्र व्रत रखा जा सकता है।
- इस दिन हजामत यानी बाल न कटाएं व दाढ़ी न बनवाएं।
- व्रत नियमों में सूर्योदय से पहले जाग स्नान कर पीले वस्त्र पहनें।
- इस दिन केले के वृक्ष या इष्ट देव के समीप बैठ पूजा करें।
- गुरु और बृहस्पति प्रतिमा को पीली पूजा सामग्री जैसे पीले फूल, पीला चंदन, चने की दाल, गुड़, सोना, वस्त्र चढ़ाएं। पीली गाय के घी से दीप पूजा करें। पीली वस्तुओं का दान करें। कथा सुनें।
- भगवान को केले चढ़ाएं लेकिन खाएं नहीं।
- यथाशक्ति ब्राह्मणों को भोजन व दान दें।
- हर दरिद्रता व संकट टालने ही नहीं सपंन्नता को बनाए रखने के लिए भी यह व्रत करना चाहिए।



X
ups_worship lord brihaspati by follow this rules for be lucky and happy
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना