--Advertisement--

फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी के लिए अमेरिका ने पेश की है मजबूत दावेदारी: ट्रम्प ने ट्वीट कर किया दावा

अमेरिका की पुरुष टीम 2018 फीफा वर्ल्ड कप का आनंद अपने घर पर ही ले पाएगी।

Dainik Bhaskar

Apr 27, 2018, 03:24 PM IST
ट्रम्प के अनुसार, 2026 फीफा वर्ल्ड कप का अमेरिका प्रबल दावेदार है। - फाइल ट्रम्प के अनुसार, 2026 फीफा वर्ल्ड कप का अमेरिका प्रबल दावेदार है। - फाइल

  • इस साल 14 जून से 15 जुलाई तक रूस में फीफा वर्ल्ड कप होना है।
  • त्रिनिदाद एंड टोबैगो से 2-1 से हराने के कारण अमेरिकी टीम इसके लिए क्वालीफाई नहीं कर सकी थी।

वाशिंगटन. अमेरिका 2026 में कनाडा और मेक्सिको के साथ संयुक्त रूप से फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी पाने की कोशिश में जुटा है। इस संबंध में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एक ट्वीट किया। ट्वीट में उन्होंने लिखा, "2026 फीफा वर्ल्ड कप के लिए अमेरिका ने कनाडा और मेक्सिको के साथ मिलकर मजबूत दावेदारी पेश की है।" अमेरिका 2026 फीफा वर्ल्ड कप की रेस जीतने में सफल रहा तो 42 साल बाद वह इसकी मेजबानी करेगा।

हमारे खिलाफ प्रचार करने वालों का हमें क्यों समर्थन करें: अमेरिकी राष्ट्रपति

- एक अन्य ट्वीट में कहा, "यदि अमेरिका की मेजबानी के खिलाफ वे देश प्रचार करेंगे, जिनका हमने हमेशा समर्थन किया है, तो यह बड़ी शर्म की बात होगी। हम ऐसे देशों का

क्यों समर्थन कर रहे हैं, जो हमारा समर्थन (संयुक्त राष्ट्र में भी) नहीं करते।"
- ट्रम्प का यह ट्वीट उस फैसले के बाद आया है, जिसमें फीफा कांग्रेस ने मेजबाजी का फैसला मॉस्को में 13 जून को करने का लिया है। अमेरिका-कनाडा-मेक्सिको के अलावा

2026 फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी के लिए सिर्फ मोरक्को ने अपना दावा पेश किया है।
- मेक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना निएटो ने इसके थोड़ी देर बाद ही रिप्लाई किया, "हमारे बीच मतभेद हैं, लेकिन फुटबॉल हमें एकजुट करता है। 2026 में मेक्सिको, कनाडा

और अमेरिका के संयुक्त रूप से फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी करने के दावे का हम समर्थन करते हैं।"

रूस, फ्रांस और बेल्जियम कर सकते हैं मोरक्को का समर्थन
- अगले महीने रूस, फ्रांस और बेल्जियम सहित कुछ यूरोपीय देश मोरक्को को अपना समर्थन देने की घोषणा कर सकते हैं। मोरक्को को अफ्रीकी देशों का भी महत्वपूर्ण समर्थन मिलने की संभावना है। अफ्रीकी देशों के कुल 56 वोट हैं।
- इसके अलावा कैरेबियाई देश सेंट लूसिया और डोमिनिका की सरकारें भी मोरक्को को अपना समर्थन देने की घोषणा कर चुकी हैं। हालांकि कैरेबियन फुटबॉल यूनियन के प्रेसीडेंट रैनडोल्फ हैरिस ने स्पष्ट किया है कि इसका मतलब संबंधित फुटबॉल एसोसिएशंस कैसे वोट करेंगी?
- अमेरिका को 6 मध्य अमेरिकी देशों के अलावा साउथ अमेरिकन फुटबॉल कनफेडरेशन (कानमेबोल) और उसके 10 देशों का समर्थन हासिल है। सऊदी अरब ने भी अमेरिका के दावे का समर्थन करने का ऐलान किया है।

जून में होगा मेजबानी का फैसला
- 2026 फीफा वर्ल्ड कप के लिए बिड प्रक्रिया 2015 में शुरू हुई थी। इसके अनुसार, 10 मई, 2017 को कुआलालंपुर (मलेशिया) में फीफा कांग्रेस में मेजबान देश के नाम की घोषणा होनी थी।

- फीफा में भ्रष्टाचार का मामला सामने आने के कारण इसमें देरी हुई। भ्रष्टाचार मामले में फंसने के कारण तत्कालीन फीफा प्रमुख सेप ब्लाटर को अपने पद से इस्तीफा भी देना पड़ा था। अब जून, 2018 में रूस में इस पर अंतिम फैसला होगा।

2026 फीफा वर्ल्ड कप के लिए अमेरिका के अलावा मोरक्को ने भी दावेदारी पेश की है। - फाइल 2026 फीफा वर्ल्ड कप के लिए अमेरिका के अलावा मोरक्को ने भी दावेदारी पेश की है। - फाइल
X
ट्रम्प के अनुसार, 2026 फीफा वर्ल्ड कप का अमेरिका प्रबल दावेदार है। - फाइलट्रम्प के अनुसार, 2026 फीफा वर्ल्ड कप का अमेरिका प्रबल दावेदार है। - फाइल
2026 फीफा वर्ल्ड कप के लिए अमेरिका के अलावा मोरक्को ने भी दावेदारी पेश की है। - फाइल2026 फीफा वर्ल्ड कप के लिए अमेरिका के अलावा मोरक्को ने भी दावेदारी पेश की है। - फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..