• Hindi News
  • श्रीनगर में जामा मस्जिद के बाहर लगे भारत विरोधी नारे,ISIS और पाकिस्तान के झंड़े लहराए

श्रीनगर में जामा मस्जिद के बाहर लगे भारत विरोधी नारे,ISIS और पाकिस्तान के झंड़े लहराए

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में शुक्रवार को जामा मस्जिद के बाहर आतंकी संगठन आईएसआईएस और लश्कर-ए-तैयबा और पाकिस्तान के झंडे दिखाए गए। बताया जा रहा है कि जुमे की नमाज के बाद कुछ युवकों ने ये झंडे दिखाते हुए भारत विरोधी नारेबाजी की। इसके अलावा, सुरक्षाकर्मियों पर पथराव भी किया। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक घाटी में हाल ही में और पिछले दिनों में हुई ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वाले ग्रुप की पहचान कर ली गई है।
इन घटनाओं के पीछे 12 युवकों का ग्रुप
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक यह 12 युवकों का एक समूह है। जो शुक्रवार और इससे पहले भी पाकिस्तान और आईएस का झंडा फहराने की घटनाएं कर चुका है। पुलिस का दावा है कि ताजा घटना के पीछे भी इसी गुट का हाथ है। सीनियर पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इंटेलीजेंस इनपुट और सीसीटीवी कैमरों से मिले फुटेज और फोटो के आधार पर इस ग्रुप से जुड़े लोगों की पहचान कर ली गई है और इन पर लगातार निगाह रखी जा रही है।
सुरक्षाबलों पर किया पथराव
ऐसा पांचवीं बार था जब जुमे की नमाज के बाद आतंकियों और पाकिस्तान के झंडे लहराए गए।बताया जा रहा है कि जब वहां तैनात सुरक्षा बलों ने कश्मीरी युवकों को ऐसा करने से रोकने की कोशिश की, तो उन पर पथराव भी किया गया। इस दौरान पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा। झंडे लहराते हुए ये नौजवान मस्जिद के पास बने घरों की छत पर चढ़ गए। घटना के बाद मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर में अलगाववादियों ने शुक्रवार को याकूब की फांसी के विरोध में बंद बुलाया था। इससे पहले, हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के प्रमुख मीरवाइज उमर फारूक ने याकूब की फांसी को राजनीतिक साजिश करार दिया था।
जम्मू में भी लगे भारत विरोधी नारे
जम्मू में शुक्रवार को एक अलगाववादी संगठन की प्रमुख आशिया अंद्राबी के नेतृत्व में याकूब की फांसी के खिलाफ निकाले गए मार्च में भारत विरोधी और पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए गए। प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े और हवाई फायरिंग भी करनी पड़ी।
आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज...