• Dharm
  • Utsav
  • Utsav Aaj
  • हर मनोकामना पूरी करती है सोम प्रदोष व्रत की कथा
विज्ञापन

हर मनोकामना पूरी करती है सोम प्रदोष व्रत की कथा

Dainik Bhaskar

Mar 19, 2012, 06:52 AM IST

इन सभी में सोम प्रदोष व्रत का महत्व सर्वाधिक है क्योंकि शास्त्रों में सोमवार को भगवान शंकर का दिन माना गया है। 19 मार्च को सोम प्रदोष व्रत है।

हर मनोकामना पूरी करती है सोम प्रदोष व्रत की कथा
  • comment

भगवान शंकर को प्रसन्न करने के लिए दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत करने के विधान हमारे धर्म ग्रंथों में है। विभिन्न वारों के साथ यह व्रत विभिन्न योग भी बनाता है। इन सभी में सोम प्रदोष व्रत का महत्व सर्वाधिक है क्योंकि शास्त्रों में सोमवार को भगवान शंकर का दिन माना गया है। 19 मार्च को सोम प्रदोष व्रत है। श्रृद्धालुओं के लिए यह बहुत ही उचित अवसर है जब यह व्रत कर भगवान शंकर की कृपा प्राप्त की जा सकती है। इस व्रत से जुड़ी कथा इस प्रकार है-
एक नगर में एक ब्राह्मणी रहती थी। उसके पति का स्वर्गवास हो गया था। उसका एक छोटा बेटा था। अपना व अपने बेटे के जीवन-यापन के लिए वह सुबह होते ही अपने पुत्र के साथ भीख मांगने निकल पड़ती थी। एक दिन ब्राह्मणी घर लौट रही थी तो उसे एक लड़का घायल अवस्था में कराहता हुआ मिला । ब्राह्मणी दयावश उसे अपने घर ले आई। वह लड़का विदर्भ का राजकुमार था।
शत्रु सैनिकों ने उसके राज्य पर आक्रमण कर उसके पिता को बन्दी बना लिया था और राज्य पर नियंत्रण कर लिया था, इसलिए वह मारा-मारा फिर रहा था। राजकुमार उस ब्राह्मणी के घर रहने लगा। एक दिन अंशुमति नामक एक गंधर्व कन्या ने राजकुमार को देखा और उस पर मोहित हो गई। अगले दिन अंशुमति अपने माता-पिता को राजकुमार से मिलाने लाई। उन्हें भी राजकुमार भा गया। कुछ दिनों बाद अंशुमति के माता-पिता को शंकर भगवान ने स्वप्न में आदेश दिया कि राजकुमार और अंशुमति का विवाह कर दिया जाए। उन्होंने वैसा ही किया।
ब्राह्मणी प्रदोष व्रत करती थी। उसके व्रत के प्रभाव और गंधर्वराज की सेना की सहायता से राजकुमार ने विदर्भ से शत्रुओं को खदेड़ दिया और पिता के राज्य को पुन: प्राप्त कर आनन्दपूर्वक रहने लगा। राजकुमार ने ब्राह्मण-पुत्र को अपना प्रधानमंत्री बनाया। ब्राह्मणी के प्रदोष व्रत के माहात्म्य से जैसे राजकुमार और ब्राह्मण-पुत्र के दिन फिरे, सोम प्रदोष व्रत करने से भगवान शंकर अपने अन्य भक्तों की मनोकामना भी पूरी करते हैं।




-- पूरी ख़बर पढ़ें --

X
हर मनोकामना पूरी करती है सोम प्रदोष व्रत की कथा
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें