--Advertisement--

घर का दरवाजा दक्षिण दिशा में हो तो 7 पीली कौड़ियां बांधे, दूर हो सकता है अशुभ असर

जिन घरों में वास्तु दोष होते हैं, वहां नकारात्मकता रहती है। नकारात्मकता दूर करने के लिए वास्तु में उपाय भी बताए गए हैं..

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 02:04 PM IST

रिलिजन डेस्क। गुरुवार, 28 जून को ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा है। इस दिन ज्योतिष और वास्तु शास्त्र के उपाय करने से घर में सुख-शांति बढ़ सकती है। कोलकाता की एस्ट्रोलॉजर डॉ. दीक्षा राठी के अनुसार वास्तु दोष दूर करने के लिए गुरुवार और पूर्णिमा के योग में घर के मुख्य दरवाजे के जुड़े कुछ खास उपाय करना चाहिए। इन उपायों से घर में सकारात्मकता प्रवेश करती है। जानिए दरवाजे की दिशा के अनुसार पूर्णिमा पर कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं...

1. दक्षिण दिशा का दरवाजा शुभ नहीं माना जाता है। इस दिशा में दरवाजा हो तो पूर्णिमा पर सात पीली कौड़ियां एक धागे में बांधकर दरवाजे पर लटका दें।

2. अगर घर का दरवाजा पूर्व दिशा में है सूर्योदय से पहले उठें और स्नान के बाद एक लाल कपड़े में नारियल के साथ कुछ सिक्के बांधे। ये पोटली दरवाजे पर लटका दें।

3. घर का मुख्य दरवाजा पश्चिम दिशा में है तो एक रुद्राक्ष दरवाजे के बीच में ऊपर की ओर लटका दें। ऐसा करने पर कार्यों में सफलता मिलने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं।

4. घर का मेन गेट उत्तर-पूर्व या दक्षिण-पूर्व दिशा में है तो गुरुवार को दरवाजे के अंदर एक साफ बर्तन में पानी भरकर रखें और उसमें गुलाब की पंखुड़ियां डालें। इस सुंगधित पानी के शुभ असर से नकारात्मकता दूर हो सकती है।

5. अगर दरवाजा दक्षिण-पश्चिम, उत्तर-पश्चिम दिशा में है तो दरवाजे के पास क्रिस्टल बॉल रखना चाहिए।

6. उत्तर दिशा का दरवाजा लाभदायक होता है। पूर्णिमा के दिन पीले फूले की माला बनाएं दरवाजे पर लगाएं। इससे घर में सुख-समृद्धि का आगमन होता है।

Related Stories