--Advertisement--

घर का कबाड़ गलत दिशा न रखें, पश्चिम-दक्षिण दिशा में रखें भारी सामान, सुख-समृद्धि के ऐसे ही 5 उपाय

पैसों की कमी दूर करने के लिए वास्तु में कई उपाय बताए गए हैं।

Danik Bhaskar | Jun 24, 2018, 05:38 PM IST

रिलिजन डेस्क। जिन घरों में वास्तु के दोष होते हैं, वहां रहने वाले लोगों को नकारात्मकता का सामना करना पड़ता है। वास्तु दोषों की वजह से किसी भी काम में आसानी से सफलता नहीं मिल पाती है। घर में रखी हर एक वस्तु के लिए शुभ दिशाएं बताई गई हैं। अगर चीजें सही दिशा में रखी होती है तो घर में सकारात्मकता बनी रहती है और भाग्य का साथ मिल सकता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए घर में रखी चीजों के लिए शुभ जगहें कौन-कौन सी है...

> ईशान कोण (उत्तर-पूर्व दिशा) में अगर कोई कबाड़ या फालतू सामान रखा है तो उसे वहां से हटा लेना चाहिए, क्योंकि ये दिशा देवी-देवताओं से संबंधित है। अगर यहां बेकार सामान रखते हैं तो धन हानि होने के योग बन सकते हैं।

> बेडरूम के ईशान कोण (उत्तर-पूर्व दिशा) में भारी या अधिक सामान रखा हो तो उसे कम कर देना चाहिए। ऐसे सामान को कमरे के नैऋत्य कोण (पश्चिम-दक्षिण दिशा) में रखना चाहिए। ईशान कोण को या तो खाली रखें या इस जगह में हल्का सामान रखें।

> अगर पूजा स्थल गलत दिशा में है तो वास्तु दोष बढ़ते हैं। मंदिर ईशान कोण (उत्तर-पूर्व दिशा) में शुभ माना जाता है। उत्तर या पूर्व दिशा में पूजा स्थल हो तो उसकी जगह बदलने की आवश्यकता नहीं है। ये दिशाएं भी मंदिर के लिए शुभ रहती है।

> यदि ईशान (उत्तर-पूर्व दिशा) में बाथरूम है तो ये अशुभ माना जाता है। अगर घर में और भी बाथरूम हैं तो इसे बंद किया जा सकता है। अगर ये संभव ना हो तो घर में वास्तुदोष नाशक यंत्र रखें। घर बनवाते समय ध्यान रखें इस दिशा में बाथरूम न बनवाएं।

> घर हो या औद्योगिक जगहें जैसे- फैक्ट्री, कारखाना, ऑफिस आदि का ईशान कोण (उत्तर-पूर्व दिशा) हमेशा साफ-सुथरी होना चाहिए।

> बेडरूम के नैऋत्य कोण (पश्चिम-दक्षिण दिशा) में पलंग रखें और सोते समय सिर हमेशा दक्षिण दिशा में ही रखें।

Related Stories