--Advertisement--

जब पत्नी गर्भवती हो तो काम आ सकते हैं 6 उपाय, कमरे में क्या रखें और क्या न रखें

घर में वास्तु की बातों का ध्यान रखा जाए तो परिवार के सभी सदस्यों को शुभ फल मिल सकते हैं।

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 06:40 PM IST

रिलिजन डेस्क। गर्भावस्था के दौरान में घर में वास्तु शास्त्र की कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो महिला और बच्चे के भविष्य के लिए शुभ हो सकता है। वास्तु में बताए गए नियमों का ध्यान रखने पर घर की नकारात्मकता दूर होती है और सकारात्मकता बढ़ती है। प्रेग्नेंट महिला सकारात्मक वातावरण में रहेगी उसकी और उसके बच्चे की सोच भी सकारात्मक बनती है। कोलकाता की एस्ट्रोलॉजर और वास्तु विशेषज्ञ डॉ. दीक्षा राठी के अनुसार जानिए गर्भवती महिला के लिए घर में कौन-कौन सी वास्तु के उपाय किए जा सकते हैं...

1. गर्भवती महिला के सोने के लिए दक्षिण दिशा शुभ नहीं होती है। कमरे की दक्षिण दिशा में सोने से बचना चाहिए।

2. गर्भवती के कमरे में कान्हाजी की फोटो या किसी अन्य सुंदर बच्चे की फोटो लगानी चाहिए। साथ ही, ऐसी फोटो भी लगाएं जिसे देखकर खुशी मिलती है। ऐसी फोटो मां और बच्चे के मानसिक विकास के लिए शुभ होती है।

3. जिस कमरे में प्रेग्नेंट महिला रहती है, उसमें मन विचलित करने वाली तस्वीरें और किताबें नहीं रखनी चाहिए। नकारात्मक फोटो जैसे डूबती नाव, हिंसक जानवर के फोटो, उदासी दर्शाने वाली तस्वीरें कमरे में रखने से बचना चाहिए।

4. महिला के कमरे में कोई नुकीली चीज में नहीं रखनी चाहिए। नुकीली चीजों से वास्तु दोष बढ़ते हैं। वातावरण नकारात्मक होता है।

5. कमरे में हल्के रंगों वाली चीजें रखनी चाहिए। पलंग एकदम साफ होना चाहिए। बिस्तर कटे-फटे न हों। कमरे में गंदगी नहीं होनी चाहिए।

6. कमरे में सुबह-शाम कर्पूर जलाना चाहिए। इससे शुभ असर से वातावरण के सूक्ष्म कीटाणु नष्ट होते हैं और सकारात्मकता बढ़ती है।

Related Stories