• Jyotish
  • Vastu
  • Vastu Tips, Vastu Dosh, Vastu Shastra, Feng Shui, Fish Aquarium, वास्तु टिप्स, वास्तु दोष, वास्तु शास्त्र, फेंगशुई, फिश एक्वेरियम
विज्ञापन

घर में कहां रखें फिश एक्वेरियम, कोई मछली मर जाए तो क्या करना चाहिए?

Dainik Bhaskar

May 04, 2018, 05:00 PM IST

घर-दुकान के एक्वेरियम में रखी मछलियां वहां के सदस्यों के ऊपर आने वाली मुसीबतों को टालती हैं।

Vastu Tips, Vastu Dosh, Vastu Shastra, Feng Shui, Fish Aquarium, वास्तु टिप्स, वास्तु दोष, वास्तु शास्त्र, फेंगशुई, फिश एक्वेरियम
  • comment

रिलिजन डेस्क। आज-कल घर में फिश एक्वेरियम रखने का चलन बढ़ता जा रहा है। फेंगशुई में एक्वेरियम को बहुत ही खास माना गया है क्योंकि मछलियों को लेकर मान्यता है कि घर-दुकान के एक्वेरियम में रखी मछलियां वहां के सदस्यों के ऊपर आने वाली मुसीबतों को टालती हैं और घर में धन-संपत्ति को भी बनाए रखती हैं। घर या दुकान में एक्वेरियम रखते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, जानिए-


कहां रखना चाहिए एक्वेरियम
फिश एक्वेरियम को पूर्व, उत्तर या उत्तर-पूर्व दिशा में रखना चाहिए। इन दिशाओं में रखा एक्वेरियम पॉजिटिव एनर्जी बढ़ाता है।


यहां न रखें एक्वेरियम
किचन में फायर एनर्जी होती है और एक्वेरियम वाटर एनर्जी का प्रतीक होता है। इसलिए एक्वेरियम को कभी किचन के आस-पास नहीं रखना चाहिए।


समय-समय पर बदलते रहें पानी
पानी ज्यादा पुराना हो जाने पर उसमें नेगेटिव एनर्जी बढ़ने लगती है, इसलिए एक्वेरियम का पानी पुराना हो जाने पर उसे बदलते रहना चाहिए।


कितनी होनी चाहिए मछलियों की संख्या
एक्वेरियम में मछलियों की संख्या कम से कम नौ होनी चाहिए। इनमें से 8 मछली लाल और सुनहरे रंग की और 1 मछली काले रंग की होनी चाहिए।


काले रंग की मछली का महत्व
फेंगशुई के अनुसार, काले रंग की मछली सुरक्षा का प्रतीक होती है और ये बुरी एनर्जी से घर के सदस्यों की रक्षा करती है।


कोई मछली मर जाए तो क्या करें
अगर एक्वेरियम की कोई मछली मर जाए तो उसे तुरंत बाहर निकाल कर नदी या तालाब में बहा दें। ध्यान रखें जिस रंग की मछली मरी हो, उसी रंग की नई मछली लाकर एक्वेरियम में जरूर डालें।

X
Vastu Tips, Vastu Dosh, Vastu Shastra, Feng Shui, Fish Aquarium, वास्तु टिप्स, वास्तु दोष, वास्तु शास्त्र, फेंगशुई, फिश एक्वेरियम
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें