फल और सब्जियां लेकर सेक्टर्स में भेजे गए वेंडर्स ने की लूट-खसोट, दोगुने दाम वसूले

News - 25 से 30 रु. तय किए थे टमाटर के रेट, लोगों को बेचा 80 रुपए किलो प्रशासन ने कुछ बसाें में वेंडर काे बैठाकर सेक्टर्स...

Mar 27, 2020, 07:20 AM IST
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double

{25 से 30 रु. तय किए थे टमाटर के रेट, लोगों को बेचा 80 रुपए किलो

प्रशासन ने कुछ बसाें में वेंडर काे बैठाकर सेक्टर्स में सब्जी, फल बेचने के लिए भेजा। प्रशासन की अाेर से बाकायदा रेट लिस्ट भी जारी की थी। उसमें अालू का रेट 15 से 20 किलाे, टमाटर 25 से 30 रुपए किलाे, प्याज 20 से 25 रुपए किलाे, घीया 20 से 25 रुपए किलाे तय किया था। प्रशासन ने फल का रेट तय नहीं किया था। बसाें में बैठे वेंडर्स ने मनमर्जी के दाम सब्जियाें के वसूले। लाेग क्या करते कर्फ्यू में महंगी भी सब्जियां लेते गए। मगर प्रशासन का सब्जी के दाम पर काेई कंट्राेल नहीं दिखा। प्रशासन की तय रेट पर एक भी सब्जी नहीं बिकी।

सेक्टर-47 डी में पाेस्ट ऑफिस के पास खड़ी बस में वेंडर ने अालू 50 रुपए किलाे, टमाटर 80 रुपए प्याज 50 रुपए प्रति किलाे बेचा है। जबकि केला 70 रुपए दर्जन, अंगूर 140 रुपए किलाे अाैर संतरा 80 रुपए किलाे के हिसाब से बेचा गया। लाेगाें ने रेट काे लेकर एतराज किया। सेक्टर 47 में रहने वाले संजय कुमार ने बताया कि जब उन्हाेंने बस में बैठे वेंडर से पूछा कि प्रशासन की अाेर से अखबार में दिए गए रेट्स ताे काफी कम हैं, अाप ताे सब्जी प्रशासन के रेट से डबल से भी ज्यादा में बेच रहे हाे। वेंडर ने जवाब दिया कि हमारे पास काेई रेट नहीं हैं, ग्रेन मार्केट से महंगी सब्जी खरीदकर लाएं हैं अगर खरीदनी है तो खरीदो, नहीं तो रहने दो, एेसे में मजबूरी में महंगी सब्जी अाैर फ्रूट्स खरीदना पड़ा।

एमसी के इंफाेर्समेंट सब इंस्पेक्टर ललित त्यागी ने बताया कि मैंने वेंडर से रेट लिस्ट बारे पूछा था उसने कहा कि हमारे पास काेई रेट लिस्ट नहीं है। न ही हमें सब्जी की रेट लिस्ट मुहैया करवाई है। एेसे में वेंडर काे कैसे कह सकते हैं कि महंगी सब्जी बेच रहे हाे। सेक्टर-25 में पुलिस बीट बाॅक्स के पास खड़ी बस में दाे वेंडर थे। इनके पास प्याज, अालू अाैर पपीता ही थे।

इनसे रविंदर सिंह ने पूछा कि अालू, प्याज का क्या रेट है, वेंडर ने बताया कि अालू 30 रुपए किलाे, प्याज 40 रुपए किलाे अाैर पपीता 60 रुपए किलाे के हिसाब से बेच रहे हैं। अापने खरीदना है ताे खरीदाे। नहीं दूसरे का नंबर अाने दाे। एेसे में महंगे रेट पर अालू, प्याज अाैर पपीता खरीदा पड़ा। वेंडर से जब पूछा कि इतने महंगे रेट क्याें ले रहे हाे। प्रशासन ने ताे रेट लिस्ट दी हाेगी। उसके मुताबिक ही पब्लिक से पैसे लाे। वेंडर ने बताया कि हमारे पास काेई रेट लिस्ट नहीं है। ये हमारे रेट हैं। क्याेंकि हमें ग्रेन मार्केट से सब्जी महंगी मिली है।

} वेंडर्स की मनमानी रोकने में प्रशासन फेल, कर्फ्यू के कारण लोग महंगा सामान खरीदने को मजबूर...

}सुबह अफसर समय पर नहीं पहुंचे मंडी, तो वेंडर्स ने मर्जी से रेहड़ियों में भर दिया सामान, कुछ जगह बेचा भी...

फोटो: अश्वनी राणा

| सेक्टर-26 मंडी **

| सेक्टर-37 में सब्जियों के लिए लगी लाइन...**

}से-44 में लोगों की वेंडर्स से बहस...

सेक्टर-44 के रहने वाले पंकज गुलेरिया ने बताया कि सुबह सीटीयू की बस उनके एरिया में आई। लेकिन उन्हें बड़ी हैरानी हुई कि वेंडर्स दोगुने दाम पर सब्जियां बेच रहे थे। पंकज ने बताया कि प्रशासन ने रेट लिस्ट जारी की थी लेकिन उसका कोई असर नहीं दिखा। वेंडर्स 50 रुपए किलो प्याज, 100 रुपए किलो के मटर और 60 रुपए किलो टमाटर बेच रहा थे। वहां लोगों की वेंडर्स के साथ काफी बहस भी हुई।

Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
X
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double
Chandigarh News - vendors sent to sectors carrying fruits and vegetables robbed charged double

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना