किसी एक की नहीं, दोनों पक्ष की जीत,दशकों का विवाद खत्म

News - भास्कर न्यूज| खूंटी, लापुंग राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है। जिसे समाज के सभी...

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 08:01 AM IST
Torpa News - victory on both sides not of any one decades of dispute over
भास्कर न्यूज| खूंटी, लापुंग

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है। जिसे समाज के सभी वर्ग के लोगों ने स्वीकार किया। जिला प्रशासन द्वारा आने वाले फैसले को लेकर पिछले कई दिनों से धार्मिक संगठनों तथा शांति समिति की बैठकों का आयोजन किया जा रहा था। इसका प्रभाव पड़ा। शनिवार सुबह से खूंटी के विभिन्न चौक चौराहों में अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले पर चर्चाओं का दौर सुबह से ही जारी रहा। लोग चाय की चुस्कियों के साथ साथ कोर्ट के फैसले को सहर्ष स्वीकार करने की बात कर रहे थे। लोगो का यह भी कहना था कि जो भी फैसला आएगा उसे स्वीकार करते हुए जिस तरह से पहले दोनों पक्षों के लोग भाईचारे, अमन तथा शांति के साथ रहते थे। उसी तरह आगे भी रहना है। एक ओर जहां हिन्दू पक्ष के लोग फैसले से काफी खुश दिखे वहीं मुस्लिम पक्ष के लोगों ने भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हुए हिंदू पक्ष के लोगोंं को बधाई भी दी। शहरवासियों ने सामाजिक सौहार्द बरकरार रखने के लिए किसी भी प्रकार का सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया। हालांकि जिला प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। जिले में अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी भी बुलाए गए थे। उधर भाजपा व आरएसएस के मदनमोहन गुप्ता, भोलानंद तिवारी, सुनील साहू, प्रियांक भगत, जितेंद्र कश्यप,अनूप साहू, संजय मिश्रा, विनोद जायसवाल, नीरज चौरसिया,अशोक अग्रवाल आदि कार्यकर्ताओं ने अपने घरों के बाहर मिठाईयां बांटकर तथा एक दूसरे को बधाई देकर अपनी खुशियों का इजहार किया। प्रियांक भगत ने बताया कि संगठन से स्पष्ट निर्देश था कि फैसला चाहे कुछ भी आये शांतिपूर्ण तरीके से स्वीकार करना है। यही वजह है कि भाजपा,विहिप,आरएसएस समेत अन्य हिंदू संगठनों के लोग शांतिपूर्ण तरीके से अपने लोगो के बीच खुशियां बांटी। इससे पूर्व लोग फैसले की घड़ी आने से पहले ही टीवी सेटों में चिपक गए।

तोरपा में मरकज रजा ए मुस्तफा के सदर आजाद खान ने इसे देश की जीत बताया। इसे किसी एक पक्ष की नहीं दोनों पक्ष की जीत है। खुशी की बात है कि इस मुद्दे पर दशकों से चली आ रही राजनीति अब खत्म होगी। सभी को एक साथ मिल कर मंदिर और मस्जिद का निर्माण कराना चाहिए। आजाद खान ने इस फैसले के लिए उन्होंने न्यायालय का शुक्रिया अदा किया। सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष मनोज गोप ने इसे जटिल मुद्दा बताया तथा कहा कि इसका समुचित हल होना एक अच्छा फैसला है। इसका स्वागत है। मस्जिदे आईसा के सदर रिजवान आलम ने फैसले को देश हित में बताया। फैसले पर सहमति जताते हुए उन्होंने कहा कि पुराना मुद्दा हल हो गया। इसका हल इससे बेहतर और कुछ नहीं हो सकता, ये फैसला जाति धर्म से उपर उठ कर है, दोनों धर्मों का सम्मान रखा गया है। गोल्डी गुप्ता ने कहा कि माननीय न्यायालय के द्वारा दिया गया फैसला बिलकुल सटीक है, सबूतों के आधार पर हुआ फैसला है, किसी के लिए खुशी मनाने या दुखी होने वाली बात नहीं।

पिस्का नगड़ी में शनिवार सुबह अयोध्या मामले में फैसला आने से पूर्व नगड़ी थाना प्रभारी ने पूरे क्षेत्र में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर दिए थे। नगड़ी थाना क्षेत्र में प्रशासन की और से हर गांव हर टोला में विशेष पेट्रोलिंग की जा रही थी। ।डीएसपी (मुख्यालय 2) हरिश्चंद्र सिंह स्वयं नगड़ी में अपने पुलिस बल के साथ क्षेत्र के हर पल की निगरानी रखें हुए थे। इधर नगड़ी सद्भावना एकता मंच के सदस्यों के द्वारा क्षेत्र में घूम घूम कर फैसले को स्वीकार्य करने की जा रही थी। वही नगड़ी थाना प्रभारी बाबू बंशी साहू ने थाना क्षेत्र के शराब दुकान और पटाखे की दुकान को दो दिनों तक बंद करने का आदेश दिया है।

X
Torpa News - victory on both sides not of any one decades of dispute over
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना