6 दिन बाद शुरू जा रहा IPL : 7 साल पहले और आज के विराट को देखिए, फैट पूरी तरह से हो गया गायब, दाल-चावल-रोटी-सब्जी जैसी चीजें विराट की डाइट में नहीं हैं शामिल, जब नई लाइफस्टाइल को अपनाया था तो स्वादिष्ट खाने के लिए तरस गए थे फिर भी विचलित नहीं हुए

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

हेल्थ डेस्क। आज से 6 दिन बाद इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) शुरू होने जा रहा है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की कप्तानी इस बार भी विराट कोहली करेंगे। 7 साल पहले के कोहली (आईपीएल-2012) को आप आज देखेंगे तो सरप्राइज होंगे क्योंकि उन्होंने खुद में गजब का ट्रांसफोर्मेशन किया है। फैट तो उनकी बॉडी से गायह ही हो चुका है। यह फिटनेस कोहली ने यूं ही नहीं पाई बल्कि बहुत कठिन मेहनत कर पाई है। सिर्फ घंटों एक्सरसाइज को नहीं दिए बल्कि अपनी डाइट पूरी तरह से बदल दी।

हालांकि पहले वे नॉनवेज खाया करते थे लेकिन पिछले साल अक्टूबर में खबरें आईं थी कि विराट ने नॉनवेज खाना पूरी तरह से बंद कर दिया है और वे शाकाहारी हो चुके हैं। कोहली का मानना है कि नॉन वेज छोड़ने के बाद उनका खेल पहले से ज्यादा बेहतर हुआ। उनकी पाचन शक्ति मजबूत हुई। कोहली के मौजूदा डाइट में प्रोटीन शेक, वेजिटेबल और सोया शामिल है। विराट के मुताबिक उन्हें मटन, अंडे और दुग्ध उत्पादों की कमी नहीं खलती। उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा भी वेजिटेरियन हैं।

जानिए उन चीजों के बारे में जो कोहली की डाइट में शामिल हैं
1. उबली हुई पालक :
यह न्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट्स से रिच होती है। इससे ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस कम होता है और ब्लड प्रेशर संतुलित रहता है। इसमें कैलोरी कम होती है, जबकि फाइबर ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। विटामिन के साथ ही आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम और मैग्नीशियम भी इसमें पाया जाता है।
2. तरबूज : तरबूज में हाई वाटर कंटेंट होता है। इससे खाने से बॉडी में पानी की कमी नहीं होती। बॉडी की कोशिकाओं तक न्यूट्रिएंट्स पहुंचाने और शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने का काम पानी ही करता है। पर्याप्त पानी न पीने से बॉडी डीहाइड्रेशन का शिकार हो जाती है और मसल्स में इंजुरी भी आ सकती है। तरबूज में विटामिन ए, बी, सी और मिनरल्स पाए जाते हैं। इससे हार्ट हेल्दी रहता है। डाइजेशन ठीक रहता है।
3. पपीता : पपीता विटामिन सी का एक्सीलेंट सोर्स है। विटामिन ए, बी, ई, के, मैग्नीशियम, कॉपर, कैल्शियम, पोटैशियम भी इसमें पाए जाते हैं।
4. नट बटर : नट बटर प्रोटीन, हेल्दी फैट्स, फाइबर, विटामिन, मिनरल्स और फाइटोकेमिकल्स का रिच सोर्स होता है। इससे कैंसर की रिस्क कम होती है। डाइजेशन अच्छा होता है।
5. मैश आलू : आलू फाइटोन्यूट्रिएंट्स से रिच होता है। विटामिन बी, सी के साथ ही पोटैशियम और मैग्नीशियम का भी एक अच्छा सोर्स है। इससे ब्लड प्रेशर रेग्युलेट होता है। स्ट्रेस कम होने के साथ ही ब्रेन की हेल्थ इम्प्रूव होती है। डाइजेशन के साथ ही हडि्डयों और स्किन की कंडीशन बेहतर होती है।
6. ग्रीन टी विद लेमन : ग्रीन टी एंटीऑक्सीडेंट्स और न्यूट्रिएंट्स से रिच होती है। इससे ब्रेन फंक्शन इम्प्रूव होता है और फैट कम होता है। इससे कैंसर की रिस्क कम होती है। इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। आंतों की हेल्थ अच्छी होती है।
7. चीज : इसमें हेल्दी फैट और प्रोटीन पाया जाता है। विटामिन और मिनरल्स जैसे विटामिन ए, बी, कैल्शियम, फास्फोरस और जिंक इसमें पाया जाता है। इससे दिल और हड्डियां हेल्दी होती हैं। इम्यूनिटी, ब्रेन फंक्शन और आंतों की हेल्थ अच्छी होती है। इससे कैंसर की रिस्क भी कम होती है।
8. ग्रीन वेजिटेबल : ग्रीन वेजिटेबल में हाई एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे विटामिन ए, सी, के पाया जाता है। इसमें पोटैशियम, आयरन और मैग्नीशियम जैसे मिनरल्स भी पाए जाते हैं। इससे मेटाबॉलिज्म इम्प्रूव होता है। नेचुरल फाइबर का सोर्स होती हैं।


पहले ये चीजें भी शामिल थीं कोहली की डाइट में...
1. ऑमलेट :
यह 3 एग व्हाइट और 1 पूरे अंडे से बना होता है। अंडे में बड़ी मात्रा में प्रोटीन और विटामिन होता है। इससे जिंक, आयरन, कॉपर भी बॉडी को मिलता है। इसमें अमिनो एसिड भी पाए जाते हैं।
2. ग्रिल्ड बैकन :ग्रिल्ड बैकन में हाई क्वालिटी एनिमल प्रोटीन और फैट्स पाया जाता है। यह विटामिन बी और मिनरल्स जैसे फास्फोरस, आयरन, मैग्नीशियम,जिंक, पोटैशियम का बड़ा सोर्स है। इससे स्ट्रेस कम होता है और बॉडी को ओमेगा-3 फैटी एसिड मिलता है। इससे कोलेस्ट्रॉल कम होता है और हार्ट हेल्दी रहता है।
3. स्मोक्ड सालमन : स्मोक्ड सालमन डाइटेरी प्रोटीन का रिच सोर्स होता है। इसमें अमिनो एसिड्स पाए जाते हैं। फैट का भी यह अच्छा सोर्स होती हैं। इससे ओमेगा-3 फैटी एसिड मिलता है, जो ब्रेन फंक्शन के लिए जरूरी होता है। इससे मिलने वाले आयरन से मेटाबॉलिज्म और एनर्जी लेवल इम्प्रूव होता है। बी-कॉम्पलेक्स विटामिंस, विटामिन डी, मैग्नीशियम, सेलेनियम भी इससे मिलते हैं।
4. ग्रिल्ड चिकन : चिकन लीन प्रोटीन का ग्रेट सोर्स है। चिकन में मौजूद जिंक हेल्दी ऐपिटाइट को मेंटेन रखने के साथ ही हार्मोनल असुंतलन को रोकता है।
5. रेड मीट : इसमें बी कॉम्पलेक्स विटामिन, विटामिन ए, ई, ओमेगा-3, आयरन, जिंक, सेलेनियम पाया जाता है। इससे हेल्दी प्रोटीन, फैट, मिनरल्स और विटामिन बॉडी को मिलते हैं।