• Hindi News
  • National
  • Hamirpur News Wah Re Pwd Most Of The Patch Work Was Uprooted Pits On Roads Are Responsible For Silence

वाह रे पीडब्ल्यूडी: उखड़ गया ज्यादातर पैच वर्क, सड़कों पर गड्ढों के जवाबदेह हैं मौन

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर की इस उबड़-खाबड़ और गड्ढों से भरी पड़ी मुख्य सड़क की हालत से राहगीर और वाहन चालक तो परेशान हैं ही, बरसात के इस मौसम में पीडब्ल्यूडी के जवाबदेह अधिकारी इस कदर मौन व्रत पर चले गए हैं, मानों उनका इस सड़क से कोई लेना देना ही नहीं है। हालात अब रोज-रोज और बिगड़ रहे हैं। गड्ढों को भरने का इंतजाम भी नहीं हो रहा है। लोग परेशानी उठाएं, तो उठाते रहें, इससे लगता है पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को कोई लेना देना ही नहीं है। बड़ी बात तो यह है कि यहां के राजनीतिज्ञ भी इस खड्ड नुमा बन चुकी सड़क को सुधारने के लिए संजीदा नहीं रहे हैं। तभी तो अधिकारी बेलगाम हो चुके हैं। समय पर इन सड़कों की मरम्मत नहीं करते, बाद में बहाने बनाते हैं। लोगों को पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से यहां बहुत गुस्सा है। मगर देख कर कुछ नहीं कर सकते। क्योंकि उनकी लगाम जनप्रतिनिधियों के हवाले हैं। इसीलिए अधिकारी और राजनीतिज्ञ जिस सिस्टम को अख्तियार कर गए हैं, उस पर कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं।

शहर की मुख्य सड़क को पक्का करने के लिए पांच माह पहले प्रोसेस शुरू हुआ था। मगर ढुलमूल और खींचतान वाले रवैये ने इसे लंबित किया। माहौल जब बना तो बहाना बरसात का लगा दिया गया। लेकिन बरसात के 2 माह में लोगों को जो परेशानी होनी है, उसकी जवाबदेही से यह अधिकारी आखिर क्यों बच रहे हैं। यही सवाल अब शहर की जनता पूछ रही है। जगह-जगह से उखड़ी सड़क और गड्ढों में भरा पानी पैदल चलने वालों को भी परेशान कर रहा है।

उधर विभाग के एक्सईएन विवेक शर्मा पिछले काफी समय से यही कह रहे हैं, कि ठेकेदार की वजह से ही यह काम लटका है, इसे बरसात के बाद करवाया जाएगा। यह सड़क पूरी तरह उखाड़ कर नए सिरे से तैयार होगी।

हमीरपुर में शहर के मुख्य रोड के एेसे हाल हैं तो बाकी जगह क्या होगा।

5 लाख से सुधरेगी सड़क किनारों की हालत
हमीरपुर| शहर की वीआईपी सड़क हीरा नगर चौक से पुराने एसडीएम चौक तक डांग कवाली को पानी की मार से बचाने के लिए इसके किनारों के मरम्मत की जाएगी। इस काम पर पीडब्ल्यूडी ₹पांच लाख रुपए खर्च करेगी। हालांकि पूरी सड़क की मरम्मत विभाग नहीं कर पाएगा, लेकिन टेंपरेरी तौर पर सड़क के किनारों पर पानी के प्रॉपर निकासी हो सके, इसका इंतजाम किया जाएगा। पानी की मार की वजह से यह सड़क हर बार खराब हो जाती है। स्टे की वजह से पिछले काफी समय से इस सड़क की मेंटेनेंस का काम लटका हुआ है। एक्सईएन पीडब्ल्यूडी िववेक शर्मा ने बताया कि डांग कवाली सड़क के दोनों किनारों पर बजरी से फीलिंग करके इसे प्रॉपर बनाया जाएगा, ताकि पानी की निकासी सही ढंग से हो सके। स्टे हटने के बाद ही प्रस्तावित ड्रेनेज बनाने का काम शुरू हो पाएगा।

खबरें और भी हैं...