--Advertisement--

15 मई को अमावस्या : किसी मंदिर में करें झाड़ू का उपाय, चमक सकती है आपकी किस्मत

जानिए शनि जंयती और मंगलवार के 10 उपाय

Danik Bhaskar | May 14, 2018, 12:16 PM IST

रिलिजन डेस्क। 15 मई, मंगलवार को ज्येष्ठ मास की अमावस्या और शनि जंयती है। इस बार मंगलवार को शनि जयंती होने से ये दिन बहुत ही शुभ हो गया है। मंगलवार हनुमानजी के साथ ही मंगलदेव की पूजा के लिए भी खास है। मान्यता है कि मंगल की पूजा से जमीन संबंधी कार्यों में विशेष लाभ मिल सकता है। साथ ही, हनुमानजी की कृपा से शनि दोष और सभी प्रकार के दुखों से मुक्ति मिल सकती है। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार 10 ऐसे उपाय, जो अमावस्या, शनि जयंती और मंगलवार के योग में किए जा सकते हैं। ये उपाय करते रहने से किसी भी व्यक्ति की किस्मत बदल सकती है।

1. हनुमानजी को सिंदूर और चमेली का तेल चढ़ाएं। इस उपाय से बजरंग बली के साथ ही शनिदेव जल्दी प्रसन्न होते हैं। किसी मंदिर में 3 झाड़ू का दान करें। इस उपाय देवी लक्ष्मी की कृपा मिल सकती है।

2. लाल मसूर की दाल का दान किसी जरुरतमंद व्यक्ति को करें। इस उपाय से मंगल के दोष शांत हो सकते हैं।

3. शिवलिंग पर लाल फूल चढ़ाएं। शिवलिंग पर लाल पुष्प चढ़ाने से मंगल ग्रह की प्रसन्नता प्राप्त होती है। शनिदेव को नीले फूल चढ़ाएं।

4. हनुमानजी के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें।

5. किसी ऐसे तालाब या सरोवर पर जाएं, जहां मछलियां हों। वहां पहुंचकर मछलियों को आटे की गोलियां बनाकर खिलाएं। यह उपाय रोज किया जा सकता है।

6. भगवान विष्णु के मंदिर में ध्वज लगवाएं। इस उपाय से विष्णु के साथ ही महालक्ष्मी की कृपा भी मिलेगी।

7. शनि जयंती पर तेल का दान करें। साथ ही, काली उड़द, काले तिल, लोहा, काला कपड़ा आदि चीजों का दान भी कर सकते हैं।

8. किसी मंदिर में अनाज का दान करें। झाड़ू का दान करें। ब्राह्मण को भोजन कराएं।

9. पीपल पर जल चढ़ाएं। इसके बाद सात परिक्रमा करें। इस उपाय से शनि, राहु और केतु के दोष दूर हो जाते हैं।

10. अमावस्या तिथि का पितर देवताओं के लिए विशेष महत्व है। इस दिन पितरों के निमित्त दूध का दान किसी गरीब व्यक्ति को करें।

Related Stories