विज्ञापन

अगर घर में होती हैं 3 गलत बातें तो पति-पत्नी के बीच होते रहते हैं झगड़े

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 05:03 PM IST

सप्ताह में कम से कम एक बार गायों की सेवा जरूर करें। उन्हें चारा खिलाएं, उनकी साफ-सफाई करें।

we should remember these tips for happy family, religious tips for wife and husband
  • comment

रिलिजन डेस्क। पति-पत्नी के बीच प्रेम बना रहे, इसके लिए गीताप्रेस गोरखपुर द्वारा प्रकाशित संक्षिप्त गरुड़ पुराण अंक के आचारकांड में कुछ खास बातें बताई गई हैं। अगर इन बातों का ध्यान नहीं जाता है तो घर की शांति भंग हो सकती है और पति-पत्नी के बीच रिश्तों में दरार आ सकती है। यहां जानिए उज्जैन के भागवत कथाकार पं. मनीष शर्मा के अनुसार पति-पत्नी को घर में कौन-कौन सी बातें ध्यान रखनी चाहिए...

कबाड़ को करें बाहर

अगर आप चाहते हैं कि घर में शांति रहे तो सबसे पहले घर से फालतू का सामान निकालकर बाहर कर दें। बेकार पड़ी कीलें, बिना ताले की चाभियां, जंग लगा हुआ लोहा, खराब लकड़ी आदि चीजें तुरंत बाहर निकाल दें। इनकी वजह से नकारात्मकता बढ़ती है और घर की शांति दूर होती है।

दूषित वातावरण से बचें

बेकार सामान घर में दूषित वातावरण लाता है, जो कि घर की सुख-शांति छीन लेता है। ध्यान रहे कि घर की छत पर भी फालतू सामान नहीं होना चाहिए। घर में हमेशा सफाई रखें। सुबह जल्दी उठकर घर की सफाई करें। स्नान करें। पूजा के बाद घर में भीनी खुशबू वाली धूप-दीप जला दें। इससे घर में सकारात्मकता बढ़ती है।

जूठे बर्तन भिगो कर ना सोएं

ध्यान रखें कि रात के समय जूठे बर्तन और गंदे कपड़े भिगोकर न सोएं। अन्यथा आपके परिवार में एकता कभी नहीं बन पाएगी। इस गलत बात की वजह से घर में दोष बढ़ते हैं, जो कि नकारात्मकता बढ़ाते हैं।

घर की सुख-शांति के लिए करें ये उपाय

- घर में सुख बनाए रखने के लिए दान-पुण्य करते रहें। गरीबों को दान देने के अलावा जानवरों को भी खाना देना चाहिए। रोजाना घर की सबसे पहली रोटी गाय को और अंतिम रोटी कुत्ते को खिलाएं।

- सप्ताह में कम से कम एक बार गायों की सेवा जरूर करें। उन्हें चारा खिलाएं, उनकी साफ-सफाई करें। अगर आप ये नहीं कर सकते हैं तो किसी गौशाला में धन का दान करें।

- शिवलिंग पर जल चढ़ाएं और शिवजी के साथ ही माता पार्वती की पूजा करें।

X
we should remember these tips for happy family, religious tips for wife and husband
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें