--Advertisement--

5 शुभ योगों में शुरू हुआ अधिक मास, 6 उपाय में से कोई 1 करेंगे तो बढ़ सकती है इनकम

अधिक मास में किए गए पूजा-पाठ से सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं।

Danik Bhaskar | May 16, 2018, 01:26 PM IST

रिलिजन डेस्क। बुधवार, 16 मई से अधिक मास शुरू हो गया है और ये 13 जून तक रहेगा। अधिक मास 3 साल में एक बार आता है। पुरानी मान्यताओं के अनुसार ये बहुत ही पवित्र महीना है और इन दिनों भगवान की विशेष भक्ति की जाती है। खासतौर पर भगवान विष्णु और उनके अवतारों की पूजा के लिए अधिक मास का काफी अधिक महत्व है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. अमर डिब्बेवाला के अनुसार इस बार अधिकमास की शुरुआत 5 शुभ योगों से हो रही है। 16 मई को बुधवार, कृतिका नक्षत्र, गंड योग, पुष्य नक्षत्र के साथ उच्च राशि का चंद्रमा रहेगा। इन योगों के कारण अधिक मास और भी ज्यादा खास हो गया है। इन योगों में किए गए पूजा-पाठ से अक्षय पुण्य मिलता है।

यहां जानिए अधिक मास में कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं...

1. अधिक मास अपनी श्रद्धा के अनुसार रोज किसी छोटी कन्या को खीर खिलाएं। अगर रोज ये काम नहीं कर सकते तो हर शुक्रवार को छोटी कन्याओं को भोजन कराएं।

2. रोज सुबह जल्दी उठें और स्नान आदि करने के बाद किसी राधा-कृष्ण मंदिर जाएं। श्रीकृष्ण को पीले फूलों की माला चढ़ाएं।

3. रोज सुबह स्नान के बाद दक्षिणावर्ती शंख में जल, दूध, शहद भरें और भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक करें। बाल गोपाल की पूजा करें और माखन-मिश्री का भोग लगाएं।

4. भगवान श्रीकृष्ण को सफेद मिठाई, चावल की खीर का भोग लगाएं। खीर में चीनी की जगह मिश्री डालेें। तुलसी के पत्ते डालें।

5. श्रीकृष्ण को पीतांबर धारी भी कहा जाता है, पीतांबर धारी यानी जो पीले वस्त्र धारण करता है। इसलिए श्रीकृष्ण के मंदिर में भगवान के लिए पीले कपड़े, पीले फल, पीला अनाज और पीली मिठाई दान करें।

6. किसी मंदिर में केले के पौधे लगाएं। इसके बाद रोज इन पौधों की देखभाल करें। हर गुरुवार केले के पौधों की पूजा करें।

Related Stories