वेलकम गेट नहीं, गड्‌ढे करते हैं लोगों का स्वागत

Panchkula Bhaskar News - नगर निगम ने लाखों रुपए खर्च कर चंडीगढ़-पंचकूला बॉर्डर पर वेलकम टू पंचकूला का एंट्री गेट लगाकर उसपर स्लोगन तो लिखवा...

Jan 16, 2020, 07:40 AM IST
Panchkula News - welcome gate does not welcome people
नगर निगम ने लाखों रुपए खर्च कर चंडीगढ़-पंचकूला बॉर्डर पर वेलकम टू पंचकूला का एंट्री गेट लगाकर उसपर स्लोगन तो लिखवा दिया, लेकिन वहां से गुजरने वाली सड़कों की मरम्मत का काम नहीं किया। चंडीगढ़-हाउसिंग बोर्ड और पंचकूला बॉर्डर के पास सेक्टर 18/7 की डिवाइडिंग पर सेक्टर-18 की ओर सड़क टूटी हुई है। जिसकी वजह से सुबह-शाम हैवी ट्रैफिक जाम रहता है। हाउसिंग बोर्ड- पंचकूला सीमा पर बने वेलकम गेट के पास 50 से ज्यादा गड्ढे बन चुके हैं। जो 5 से लेकर 15 फुट तक के हैं। इन गड्ढों की वजह से तेजी से जा रही गाड़ियों को अचानक ब्रेक मानरी पड़ती है और उसकी वजह से आए दिन गाड़ियां आपस में टकराती हैं। निगम ने अगर जल्द ही शहर की सड़कों पर बने गड्ढों के पैचवर्क का काम नहीं करवाया तो आने वाले दिनों में लोगों की जान जा सकती है। इन गड्‌ढों से निकली बजरी से दोपहिया वाहन चालकों को अौर भी ज्यादा परेशानी हो रही है। कई बार बाइक सवार सड़क पर फैली बजरी की वजह से गिर भी जाता है। निगम ऑफिस के सामने रैली चौक है। रैली चौक के गोलचक्कर के चारों ओर सड़कें टूटी हुई हैं और गड्ढे बने हुए हैं। इसके अलावा 11/15 चौक के पास भी सड़क टूटी हुई है। पिछले कुछ साल में वहां पर कई बार सड़क धंस चुकी है और हर बार उसे नगर निगम की ओर से ठीक किया जाता है। सड़क पर प्रॉपर लेवलिंग नहीं होने की वजह से वहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को परेशानी होती है। सेक्टर-16 अग्रसेन चौक पर सेक्टर 17/8 की डिवाइडिंग के पास पिछले 5 साल में 10 बार से ज्यादा यह सड़क टूट चुकी है। हर बार उसका पैचवर्क का काम किया जाता है और सड़क कुछ दिन बाद दोबारा टूट जाती है। करीब 10 दिन पहले वहां पर पैचवर्क का काम किया गया था और दोबारा सड़क का पहले जैसा हाल हो चुका है।


डीसी भी जिस सड़क से रोज अपने ऑफिस जाते हैं उस सड़क पर सैकड़ों गड्ढे बन चुके हैं, लेकिन उन्हें इसकी कोई परवाह नहीं है। यहां तक कि नगर निगम की ओर से इसकी सुध भी नहीं ली जा रही। सेक्टर-5 बेलाविस्टा चौक से लेकर माजरी चौक तक की सड़क पर कदम-कदम पर गड्ढे हैं। ऐसे में वहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को काफी परेशानी होती है।


पंचकूला एडवाइजरी कमेटी और चंडीगढ़ के रिटायर्ड चीफ इंजीनियर एसके चड्ढा ने बताया कि मैं 7 साल से पंचकूला में रह रहा हूं। अगर क्वालिटी मैटीरियल और कंपैक्सन प्रोसेस के साथ पैचवर्क करें तो सालभर तक पैचवर्क चलेगा। यहां न ही पैचवर्क करने से पहले गड्ढे की सफाई करते हैं और न ही पैचवर्क करने के बाद उसके ऊपर रोलिंग की जाती है।

अगले महीने होगा पैचवर्क का काम

जनवरी में टेंप्रेचर कम होने की वजह से पैचवर्क का काम नहीं हो सकता। फरवरी के पहले हफ्ते से पैचवर्क का काम शुरू कर दिया जाएगा और शहर की सभी सड़कों पर बने गड्ढों पर पैचवर्क करवा दिया जाएगा। साथ ही यह भी टेक्निकल विंग को इंश्योर करना होगा कि पैचवर्क का काम ठीक से हो, ताकि लोगों को दिक्कत न आए। -सुमेधा कटारिया, नगर निगम कमिश्नर

X
Panchkula News - welcome gate does not welcome people
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना