--Advertisement--

मसल्स, कंधे और स्पाइन को मजबूत बनाने का बेहतरीन तरीका है एरियल योग

योग, जिम्नास्टिक्स, डांस और एक्रोबेट्स का मिला जुला फॉर्म है एरियल योग।

Danik Bhaskar | Jul 05, 2018, 12:44 PM IST

हेल्थ डेस्क. योग, जिम्नास्टिक्स, डांस और एक्रोबेट्स का मिला जुला फॉर्म है एरियल योग। यह एंटी ग्रेविटी योग है, जिसे जमीन से कुछ फीट ऊपर सिल्क का कपड़ा बांधकर किया जाता है। इसे करना बहुत मुश्किल है, लेकिन फिटनेस फ्रीक्स के बीच ये योग खासा चर्चित हो रहा है। जानते हैं इसे करने का तरीका और फायदे...

हर मूवमेंट का खास ख्याल
इस योग को करने के लिए सिल्क फैब्रिक का इस्तेमाल किया जाता है। सिल्क फैब्रिक के जरिए शरीर को जमीन से कई फीट ऊपर बांधा जाता है, जिससे शरीर हवा में होता है। हवा में रहते हुए योग करते वक्त् हर पोश्चर पर विशेष ध्यान दिया जाता है। एरियल योग जमीन पर योग करने से बिल्कुल अलग है। इसमें सांसों में पकड़ के साथ-साथ हाथ और पांव के मूवमेंट पर खास ख्याल रखना होता है। ये बेहद रिस्की होता है इसमें सामान्यतः किसी प्रकार की भूल की गुंजाइश नहीं छोड़नी चाहिए।

कंधे मजबूत और स्पाइन लचीली बनती है
इसमें आप झूले की तरह झूल रहे होते हैं, इसलिए ज्यादा दबाव टेलबोन पर पड़ता है। हालांकि झूलते हुए एक्सरसाइज करना किसी चुनौती से कम नहीं होता, लेकिन फिटनेस लवर्स के बीच ये काफी लोकप्रिय है। एंटीग्रेविटी योग होने के बावजूद थोड़े अभ्यास के बाद इसमें मस्ती की जा सकती है और बेहतर स्वास्थ्य पाया जा सकता है। विशेषज्ञों का दावा है कि एरियल योग से मसल्स, स्पाइनल और कंधे ज्यादा मजबूत लचीले बनते हैं।

ये न करें
गर्भावस्था, नेत्ररोग, हृदयरोग, चक्कर आने जैसी समस्या हो तो इस योग को नहीं करना चाहिए। इसे कभी भी बिना एक्सपर्ट के करने की कोशिश ना करें।

कई हैं फायदे

  • तनाव मुक्त होकर माइंड और बाॅडी रिलेक्स होती है।
  • शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन मिलती है और रक्त संचार सुचारू होता है।
  • कार्डियोवस्कुलर स्वास्थ्य काे बेहतर बनाने में भी कारगर।
  • पीठ और कमर दर्द से राहत दिलाने में मददगार। वर्कआउट करने की क्षमता बढ़ती है।
  • यह बेहद फोकस्ड एक्सरसाइज है और एकाग्रता बढ़ाने में मददगार है।